DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › कौशाम्बी › शूटर बेटी को 15 हजार रुपये की और मदद मिली
कौशाम्बी

शूटर बेटी को 15 हजार रुपये की और मदद मिली

हिन्दुस्तान टीम,कौशाम्बीPublished By: Newswrap
Wed, 01 Sep 2021 04:31 AM
शूटर बेटी को 15 हजार रुपये की और मदद मिली

दोआबा की होनहार बिटिया जागृति को ओपन एयर गन दिलाने के लिए क्राउड फंडिंग का सिलसिला बढ़ रहा है। मंगलवार को यूथ केपीएल के सदस्यों ने बेटी को 15 हजार रुपये की मदद दी। इससे पहले भी इस टीम के सदस्य 14 हजार रुपये दे चुके हैं। आपके अपने अखबार ‘हिन्दुस्तान की पहल पर जिले के अन्य समाजसेवियों ने भी चंदा जुटाना शुरू कर दिया है।

सिराथू तहसील क्षेत्र के धुमाई की जागृति सिंह मौर्या ने रायफल शूटिंग की राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में वर्ष 2016, 2017 और 2018 के बाद 2019 में गोल्ड पर कब्जा जमाया तो सिराथू में भव्य स्वागत किया गया। स्थानीय विधायक ने हर संभव मदद का भरोसा दिलाया था। होनहार बेटी का सपना राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभाग करने का है। प्रैक्टिस के लिए उसे ओपन एयर गन की दरकार है। परिवार की माली हालत ठीक न होने के कारण वह गन खरीद नहीं पा रही है। इसके लिए सांसद, विधायक के साथ डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य तक से गुहार लगा चुकी है। कोई भी उसकी सुनने वाला नहीं है। अब आपके अपने अखबार ‘हिन्दुस्तान ने अब बेटी को गन दिलाने के लिए मुहिम छेड़ दी है। इस मुहिम का हिस्सा जिले भर के समाजसेवी बन रहे हैं। यूथ केपीएल (युवा कौशाम्बी प्रीमियर लीग) के सदस्यों ने सोमवार को 14 हजार रुपये की मदद की थी। इसके बाद मंगलवार को भी इसी टीम के सदस्य शाह आलम, फुरकान, अंशुल केसरवानी, राजेश केसरवानी, शमसाद, शुभम, सुशील उर्फ गोलू, सुमित, याशीन, अनुराग, दुर्गेश गुप्ता व रानू विश्वकर्मा ने फिर 15 हजार रुपये की मदद की। आर्थिक मदद मिलने से जागृति के चेहरे पर मुस्कान आ गई है।

तीन दिन में 39 हजार की मदद

होनहार बेटी जागृति को ‘हिन्दुस्तान की मुहिम के चलते तीन दिन में 39 हजार रुपये की मदद मिल चुकी है। सबसे पहले सिराथू निवासी निखिल सिंह ने 10 हजार रुपये दिए थे। इसके बाद यूथ केपीएल के सदस्यों ने पहले 14 और फिर मंगलवार को 15 हजार रुपये दिए। चंदा जुटाने का दौर अभी अनवरत जारी है।

आखिर नींद से कब जागेंगे माननीय

कौशाम्बी जिले में एक सांसद और तीन विधायक हैं। एक प्रभारी मंत्री होने के साथ उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी यहीं के रहने वाले हैं। बेटी की मदद को माननीय अब तक आगे नहीं आए हैं। सभी पूरी तरह से चुप्पी साधे हैं। जबकि माननीय आगे आ जाएं तो बेटी का ख्वाब पूरे होते देर नहीं लगेगी। चायल विधायक संजय गुप्ता ने जल्द ही कुछ बेहतर करने का वादा किया है।

संबंधित खबरें