ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश कौशाम्बीकागजों में चल रही रोडवेज बस, यात्री परेशान

कागजों में चल रही रोडवेज बस, यात्री परेशान

सरायअकिल नगर पंचायत के लोग पर्याप्त रोडवेज बस न चलाए जाने से परेशान हैं। व्यापारिक दृष्टिकोण से सरायअकिल महत्वपूर्ण बाजार...

कागजों में चल रही रोडवेज बस, यात्री परेशान
हिन्दुस्तान टीम,कौशाम्बीThu, 30 Nov 2023 11:45 PM
ऐप पर पढ़ें

सरायअकिल नगर पंचायत के लोग पर्याप्त रोडवेज बस न चलाए जाने से परेशान हैं। व्यापारिक दृष्टिकोण से सरायअकिल महत्वपूर्ण बाजार है। कारोबारी लखनऊ, कानपुर के अलावा शहरों का सफर करते हैं, लेकिन पर्याप्त बसें न होने से लोगों को दिक्कत हो रही है। वहीं अयोध्या, चित्रकूट, विंध्याचल के लिए भी लोगों ने बस चलाए जाने की मांग की है।
सरायअकिल बस स्टेशन से प्रयागराज के लिए कुल तीन बस हैं। सबसे पहले सुबह 5.30 बजे बस छूटती हे, दूसरी बस छह बजे वाया पुरखास है, तीसरी बस 6.15 बजे सीधा डहिया होकर प्रयागराज के लिए जाती है। यह कागजों पर व्यवस्था है। हकीकत यह है कि मात्र एक ही रोडवेज बस चलाई जा रही है। वहीं कानपुर के लिए चार बसें हैं। पहली बस छह बजे सुबह दूसरी साढ़े छह बजे, तीसरी साढ़े सात बजे और चौथी बस 8:30 बजे है। वहीं लखनऊ के दो गाड़ी है। पहली 5:30 बजे और दूसरी सात बजे है। लोगों का कहना है कि सरायअकिल बस स्टेशन से वाराणसी, विंध्याचल, चित्रकूट और अयोध्या के लिए बस भी सबसे ज्यादा जरूरत है। यहां के लिए बसें चलाई जाएं। इसकी लगातार लोग एआरएम से मांग कर रहे हैं। कानपुर के लिए रोडवेज चार चल रही है, लेकिन वापसी में केवल दो बस ही हैं। इससे कारोबारियों को दिक्कत हो रही है। उनका कहना है कि जितनी बसें सरायअकिल से चल रही है, उतनी बसें वापसी में भी चाहिए।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें