DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हंगामे के बाद कोटेदार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

कौशाम्बी थाना क्षेत्र के गोहरा मारुफपुर गांव में सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान से एक पिकअप राशन बाजार भेजा जा रहा था। रविवार भोर में ग्रामीणों ने वाहन को पकड़कर जमकर हंगामा किया था। डीएम के निर्देश पर नायब तहसीलदार और सप्लाई इंस्पेक्टर ने जांच की थी। सप्लाई इंस्पेक्टर ने मामले में कोटेदार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवा दी है। गोहरा मारुफपुर गांव का कोटा इसरार अहमद के पास है। ग्रामीणों का आरोप है कि रविवार भोर में कोटेदार एक पिकअप में सरकारी राशन लदवाकर उसको बाजार में बेचने के लिए भेज रहा था। ग्रामीणों ने पिकअप को बैंगवा गांव के पास से पकड़ा था। वाहन को वापस गांव लाकर ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया था। जानकरी होने पर डीएम मनीष कुमार वर्मा ने नायब तहसीलदार और सप्लाई इंस्पेक्टर को भेजकर जांच करवाई थी। जांच में आरोप सही पाया गया। जांच के बाद सप्लाई इंस्पेक्टर मदन किशोर ने सोमवार को कौशाम्बी थाने में कोटेदार के खिलाफ मामला दर्ज करवा दिया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:protest demonstration