DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › कौशाम्बी › कलेक्ट्रेट से मां ने प्रेमी की मदद से बेटे का कराया था अपहरण
कौशाम्बी

कलेक्ट्रेट से मां ने प्रेमी की मदद से बेटे का कराया था अपहरण

हिन्दुस्तान टीम,कौशाम्बीPublished By: Newswrap
Thu, 16 Sep 2021 08:20 PM
कलक्ट्रेट से मंगलवार को संदिग्ध परिस्थितियों में तीन साल का लड़का गायब हो गया था। उसकी मां ने अपहरण का आरोप लगाया था। कलक्ट्रेट से बालक के लापता होने...
1 / 2कलक्ट्रेट से मंगलवार को संदिग्ध परिस्थितियों में तीन साल का लड़का गायब हो गया था। उसकी मां ने अपहरण का आरोप लगाया था। कलक्ट्रेट से बालक के लापता होने...
कलक्ट्रेट से मंगलवार को संदिग्ध परिस्थितियों में तीन साल का लड़का गायब हो गया था। उसकी मां ने अपहरण का आरोप लगाया था। कलक्ट्रेट से बालक के लापता होने...
2 / 2कलक्ट्रेट से मंगलवार को संदिग्ध परिस्थितियों में तीन साल का लड़का गायब हो गया था। उसकी मां ने अपहरण का आरोप लगाया था। कलक्ट्रेट से बालक के लापता होने...

मंझनपुर। संवाददाता

कलक्ट्रेट से मंगलवार को संदिग्ध परिस्थितियों में तीन साल का लड़का गायब हो गया था। उसकी मां ने अपहरण का आरोप लगाया था। कलक्ट्रेट से बालक के लापता होने पर पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया। जांच के बाद पुलिस ने चौंकाने वाला खुलास किया। महिला ने अपने प्रेमी की मदद से बेटे का अपहरण करवाया था। पुलिस ने बेटे को बरामद कर गुरुवार को महिला व उसके प्रेमी को जेल भेज दिया।

एसपी राधेश्याम विश्वकर्मा ने अपहरण कांड का खुलासा करते हुए बताया कि मंगलवार को करारी के किंग नगर मोहल्ला निवासी जदगीश प्रसाद पत्नी शालू और तीन साल के बेटे साहिल के साथ बाइक से कलेक्ट्रेट आया। पत्नी व बच्चों को कलेक्ट्रेट गेट के सामने खड़ा कर वह विकास भवन में अपनी मां की पेंशन चेक कराने के लिए बीओबी बैंक गया। लौट कर आया तो देखा कि उसकी पत्नी बदहवास हालत में चिल्ला रही थी। पूछने पर पता चला कि उसका तीन साल का बेटा साहिल गायब हो गया है। पूछताछ के दौरान जगदीश ने पत्नी शालू पर ही शक जताया। मामले को सीओ डॉ. केजी सिंह, इंस्पेक्टर मनीष पांडेय, रामजीत यादव ने गंभीरता से लिया। पुलिस ने प्रकरण में शालू की गतिविधियों को खंगालना शुरू कर दिया। देवी प्रसाद को घर से दबोचा और उसके कब्जे से साहिल को भी बरामद कर लिया।

संबंधित खबरें