DA Image
29 जनवरी, 2020|2:08|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक साल से संशोधित नहीं हुआ किसानों का खाता

एक साल से संशोधित नहीं हुआ किसानों का खाता

जिला मुख्यालय में गुरुवार को पूरबशरीरा के किसानों ने प्रदर्शन किया। किसानों का आरोप था कि उन्होंने किसान सम्मान निधि के लिए आवेदन किया था। सरकार से उनके खाते में रुपया आना है, लेकिन खाता नंबर गलत होने के कारण लाभ नहीं मिल रहा है। एक साल से वह इसके लिए दौड़ रहे हैं। लेखपाल व अन्य जिम्मेदारों के खिलाफ किसानों ने गंभीर आरोप लगाए हैं।

पूरबशरीरा के किसान गोपाल कुमार मिश्र, छोटेलाल, शिवकुमार, मुकेश कुमार, हीरालाल मौर्य, मेवालाल, राकेश सिंह, रमेश चंद्र, मुकुश कुमार समेत 20 किसानों ने डीएम को शिकायती पत्र देकर बताया कि एक साल पहले उन्होंने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का फार्म लेखपाल को दिया था। लेखपाल ने फार्म फारवर्ड कर भेज दिया, लेकिन खाता नंबर गलत था। इससे वह प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ पाने से वंचित रह गए। जब इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने अधिकारियों से संपर्क किया। अधिकारियों ने बताया कि वह कृषि कार्यालय से संपर्क करें। वह कृषि कार्यालय का कई बार चक्कर लगा चुके हैं, लेकिन उनका खाता नंबर संशोधित नहीं हुआ। यह भी बताया कि अब कृषि विभाग के अधिकारी कह रहे हैं कि कृषि विभाग का पोर्टल नहीं खुल रहा है, इससे संशोधन नहीं हो पा रहा है। इसको लेकर लोगों में गुस्सा है। किसानों ने चेतावनी दी है कि यदि उनको लाभ नहीं मिला तो वह आंदोलन करेंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Farmers account has not been revised for a year