DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  कानपुर  ›  किसानों से बोला झूठ, सिर्फ मंडी से गेहूं खरीद
कानपुर

किसानों से बोला झूठ, सिर्फ मंडी से गेहूं खरीद

हिन्दुस्तान टीम,कानपुरPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 07:01 PM
किसानों से बोला झूठ, सिर्फ मंडी से गेहूं खरीद

गेहूं खरीद के नाम पर किसानों से झूठ बोला गया। खरीद का समय एक हफ्ते बढ़ाकर किसानों के साथ छलावा किया गया। बिना जानकारी दिए मंडी छोड़कर बाकी जगह पर खरीद बंद कर दी गई। अब किसान गेहूं बेचने के लिए भटक रहे हैं। फिर भी सुनने वाला कोई नहीं। अब सिर्फ मंडी के आठ केंद्रों से खरीद होगी।

15 जून तक गेहूं की खरीद होनी थी। उसी ही दिन शासन से आदेश आया कि अब खरीद 22 जून तक बढ़ा दी गई है। किसान उसके मुताबिक क्रय केंद्रों में पहुंचकर गेहूं को बेचने के लिए आ गए। अचानक केंद्र प्रभारियों ने सिर्फ मंडी से खरीद होने की जानकारी दी तो किसानों के होश फाख्ता हो गए। किसी तरह जुगत लगाकर किसान क्रय केंद्र पहुंचे तो वहां से लौटाया गया। डिप्टी आरएमओ संतोष यादव के मुताबिक, लिखित आदेश 22 जून तक खरीद का था। अचानक सिर्फ मंडियों से खरीद का आदेश आया है। इसलिए 22 तक सिर्फ मंडियों के आठ केंद्रों से ही खरीद होगी।

टोकन लिए, फिर भी नहीं बिका गेहूं

क्रय केंद्रों के प्रभारियों ने आगे के टोकन बांट दिए गए। ऐसे में किसान जब पहुंचे तो उनसे खरीद बंद होने का हवाला देकर गेहूं खरीदने से मना कर दिया। इससे किसान टोकन होने के बावजूद बिना गेहूं बेचे लौट आए। अब वह परेशान हो रहे हैं।

प्रभारियों से भिड़ रहे किसान

22 जून तक खरीद होने की जानकारी पर गेहूं बेचने के लिए पहुंचे किसान अब क्रय केंद्र प्रभारियों से भिड़ रहे हैं। किसानों को मना करने पर वह क्रय केंद्र के बाहर डटे हुए हैं। प्रभारियों पर चिल्ला रहे हैं।

अब इन जगह से खरीद

नौबस्ता गल्ला मंडी के चार केंद्र, शिवराजपुर मंडी में तीन और उत्तरीपुरा मंडी में एक केंद्र बनाया गया है।

संबंधित खबरें