SDM intervened and took possession of cemetery instead of railway - एसडीएम ने मध्यस्थता कर कब्रिस्तान की जगह पर रेलवे को दिलाया कब्जा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एसडीएम ने मध्यस्थता कर कब्रिस्तान की जगह पर रेलवे को दिलाया कब्जा

मैथा क्षेत्र से निकली रेलवे की फ्रेट कॉरीडोर परियोजना के कार्य में बाधक बनी कब्रिस्तान भूमि पर सोमवार को प्रशासनिक अधिकारियों व पुलिस की मौजूदगी में आपसी बातचीत के जरिए कब्जा दिलाया गया। कब्रिस्तान की भूमि पर पंचायत ने विनिमय कर दूसरी जगह दी है। इसमें रेल विभाग के माध्यम से कब्रिस्तान बनाया जाएगा। इसके बाद भूमि पर अधिग्रहण किया जाएगा।

मैथा क्षेत्र में रेल लाइन पर फ्रेट कॉरीडोर परियोजना के तहत काम चल रहा है। यहां रैपालपुर ग्राम पंचायत में आरक्षित गाटा संख्या 297 का रकबा करीब डेढ़ बीघा कब्रिस्तान के नाम दर्ज है। इसमें मुस्लिम समुदाय के लोगों की कब्र भी बनी हैं। उक्त कब्रिस्तान की भूमि रेलवे ने अधिगृहित की है, लेकिन मुस्लिम समुदाय के आक्रोश के आगे अब तक रेलवे प्रशासन भूमि अधिगृहण की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था। इस पर सोमवार को डीएम राकेश कुमार सिंह के निर्देश पर मैथा एसडीएम रामशिरोमणि व कोतवाल चंद्रशेखर दुबे पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। वहां रेलवे विभाग के मुख्य परियोजना अधिकारी वीएस जरियाल व डिप्टी प्रोजेक्ट मैनेजर आरएन चैम्पिया ने मुस्लिम समुदाय के लोगों से बातचीत की। बातचीत में कब्रिस्तान की भूमि का ग्राम पंचायत में दूसरी जगह विनिमय करने का आश्वासन देने के साथ वहां बनी कब्रों का दोबारा निर्माण कराने का आश्वासन रेलवे विभाग ने लिखित रुप से दिया। इस पर कब्रिस्तान की भूमि पर रेलवे मे कब्जा कर लिया। इससे रैपालपुर गांव में कब्रिस्तान की भूमि को लेकर रेलवे व मुस्लिम समुदाय के बीच चल रहे विवाद का निस्तारण हो गया। और कब्रिस्तान की भूमि पर रेलवे विभाग का कब्जा हो गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:SDM intervened and took possession of cemetery instead of railway