DA Image
9 अगस्त, 2020|1:04|IST

अगली स्टोरी

थैलेसीमिया पीड़ित मासूम को खून देकर रोजे में बचाई जान

थैलेसीमिया पीड़ित मासूम को खून देकर रोजे में बचाई जान

सुजातगंज चंदारी रेलबाजार के रहने वाले सिराज भाई ने रोजे में मासूम को खून देकर उसकी जान बचाई और इंसानियत का धर्म निभाया। सिराज ने बताया कि उन्हें ब्लड डोनेट करके सुकून मिलता है और अल्लाह की इबादत पूरी होती है। तीसरी बार उन्होंने किसी जरूरतमंद को ब्लड डोनेट किया है।

दर्शनपुरवा में रहने वाले हार्डवेयर व्यापारी का साढ़े सात साल का बेटा थैलेसीमिया बीमारी से जूझ रहा है। बेटे को ब्लड की जरूरत थी और लॉकडाउन के चलते रिश्तेदार और नजदीकी ब्लड डोनेट करने नहीं पहुंच पा रहे थे। ऐसे में उन्होंने फेसबुक पर बने पुलिस मित्र ग्रुप पर ब्लड की डिमांड की थी। ग्रुप से जुड़े कल्याणपुर थाने के नवशीलधाम चौकी इंचार्ज रविशंकर पांडेय ने जानकारी मिलते ही अपने नजदीकियों में यह मैसेज वायरल कर दिया। क्यों कि उन्होंने दो महीने पहले ही ब्लड डोनेट किया था। जानकारी मिलते ही सुजातगंज चंदारी रेलबाजार में रहने वाले सिराज उर्फ बबलू फोन पर संपर्क करके खून देने पहुंचे। शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती बच्चे के परिजनों ने राहत की सांस ली और सिराज को धन्यवाद दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Saved life by giving blood to innocent Thalassemia victim