DA Image
15 अगस्त, 2020|10:39|IST

अगली स्टोरी

रोजेदारों ने मांगी कोरोना से निजात की दुआ

default image

लॉक डाउन का पालन करते हुए अधिंकाश लोग रमजान के पाक माह में मस्जिदों में जाने के बजाए घरों में ही इबादत कर रहे हैं। शुक्रवार को रमजान के पहले जुमे पर भी मस्जिदों में दो या तीन लोग ही नमाज अदा करने पहुंचे। अधिकांश लोगों ने घर पर ही नमाज अदा कर कोरोना के कहर से देश को निजात दिलाए जाने की दुआ मांगीं। रमजान माह में गर्मी को दरकिनार कर बड़ी संख्या में लोगों ने रोजा रखा। ख्वातीनों के साथ ही बच्चों में रोजा रखने को खासा उत्साह दिखा। जिले की मुस्लिम बहुल बस्तियों अकबरपुर, बारा, मूसानगर, फत्तेपुर, झींझक, रूरा, भडावल, डूंडीवरी, भोगनीपुर, अमरौधा, रसूलाबाद डेरापुर, सिकंदरा, सट्टी, मावर, बिवाइन, हैदरपुर, शहजादपुर, सरांय, संदलपुर आदि स्थानों पर रमजान के पहले जुमे पर लोगों ने मस्जिदों के बजाय घरों में ही नमाज अदा की। पीतमपुर गांव में भाजपा अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के कार्यसमिति के सदस्य मो. इस्लाम कुरैशी ने अपने परिवार के हरम कुरैशी, मो. हारून कुरैशी, मो. आकिब, जावेद कुरैशी के साथ घर पर जुमे की नमाज़ अदाकर देश में फैली कोरोना महामारी से छुटकारा दिलाए जाने की दुआ मांगी। इसमौके पर उन्होने लोगों से इस महामारी से लोगों की जिंदगी बचाने में लगे डाक्टरों, पुलिस व सफाई कर्मियों के अलावा प्रशासन का सहयोग करने का भी आह्वान किया। इस मौके पर उनकी दस साल की इरम ने कुरान की तिलावत की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rojedar prayed to get rid of Corona