DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  कानपुर  ›  कोरोना से अनाथ हुईं कानपुर की बच्चियों के चेहरे पर राजू ने बिखेरी मुस्कान
कानपुर

कोरोना से अनाथ हुईं कानपुर की बच्चियों के चेहरे पर राजू ने बिखेरी मुस्कान

हिन्दुस्तान टीम,कानपुरPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:11 AM
कोरोना से अनाथ हुईं कानपुर की बच्चियों के चेहरे पर राजू ने बिखेरी मुस्कान

कानपुर । प्रमुख संवाददाता

मशहूर हास्य कलाकार और उप्र फ़िल्म विकास परिषद के चेयरमैन राजू श्रीवास्तव ने कोरोना के कहर से अनाथ बच्चियों को मुम्बई स्थित अपने आवास पर बुलाया। रोती बच्चियों को दिलासा दी, हंसाया और आर्थिक मदद दी। आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान ने इन बच्चियों का दर्द बयां किया था। इसके बाद से लगातार मासूमों को मदद करने वाले हाथ आगे बढ़ रहे हैं।

कोविड सेवा व्यापारी ग्रुप के संचालक ज्ञानेश मिश्र से जानकारी मिलने पर राजू ने गोविंदनगर की इन बच्चियों को अपने मुम्बई स्थित घर पर बुलाकर हालचाल लिया। पहले माहौल कुछ गमगीन हुआ। फिर माहौल सामान्य करने के लिए मासूमों को हंसाया। बच्चियों को अपने पास बैठाकर राजू ने पूछा, बताओ हाथी अंडा देता है कि बच्चा। बच्चियों ने कहा, बच्चा। राजू बोले, नहीं हाथी कुछ नहीं देता। जो देती है हथिनी देती है। मास्क के पीछे से बच्चियों के उदास चेहरे पर थोड़ी सी मुस्कराहट बिखर गई। किस्सा जारी रखते हुए राजू बोले, एक बच्चे ने डॉक्टर से पूछा, अंकल जब आप किसी का दांत निकालते हैं तो दर्द होता है। डाक्टर बोले, हां। बच्चे ने कहा, मैं बिना दर्द के दांत निकाल सकता हूं। कैसे? दांत निपोरते हुए बच्चा बोला, ऐसे। बच्चियों के चेहरे से गायब होते दर्द को और कम करने की कोशिश में राजू ने फिर हंसाया और बोले, एक बच्चे से टीचर ने पूछा, 15 फलों के नाम बताओ। बच्चा- एप्पल, मैंगो, वाटरमिलन और एक दर्जन केला।

इस बीच बेटियों के केयटेकर प्रेम पांडेय के बैंक अकाउन्ट में राजू ने 16000 रुपये ट्रांसफर किए। राजू श्रीवास्तव ने बेटियों को हंसाया और सिर पर हाथ रखकर साथ होने का आश्वासन दिया। कहा कि जब भी कानपुर आऊंगा तो उनके घर आऊंगा। इससे पूर्व कोविड सेवा व्यापारी ग्रुप व व्यापार मंडल ने घर जाकर बच्चियों को राशन, कपड़े व 11 हज़ार रुपये का चेक दिया था।

संबंधित खबरें