DA Image
1 दिसंबर, 2020|11:24|IST

अगली स्टोरी

महर्षि वाल्मीकि जयंती पर आयोजित हुए कार्यक्रम

महर्षि वाल्मीकि जयंती पर आयोजित हुए कार्यक्रम

1 / 2महर्षि वाल्मीकि की जयंती पर जनपद में जगह-जगह भव्य कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। महर्षि की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर लोगो ने सुख समृद्धि की कामना...

महर्षि वाल्मीकि जयंती पर आयोजित हुए कार्यक्रम

2 / 2महर्षि वाल्मीकि की जयंती पर जनपद में जगह-जगह भव्य कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। महर्षि की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर लोगो ने सुख समृद्धि की कामना...

PreviousNext

महर्षि वाल्मीकि की जयंती पर जनपद में जगह-जगह भव्य कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। महर्षि की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर लोगो ने सुख समृद्धि की कामना की।

इस अवसर पर कलक्ट्रेट सभागार में डीएम डॉ. दिनेश चंद्र ने कलेक्ट्रेट के सफाई कर्मचारियों को शॉल पहनाने के साथ नकद पुरस्कार देकर सम्मानित करते हुए आगे ऐसे ही बेहतर कार्य करने के लिए प्रेरित भी किया। डीएम ने कहा कि महर्षि वाल्मीकि जी भारत ही नहीं विश्व के आदि कवि हैं। पहले शब्द ही करुणा भाव के जन्में जो रामायण महाकाव्य के रूप जाना गया। महर्षि के जीवन, उनकी रामायण कृति में एक आदर्श मनुष्य, एक आदर्श समाज को प्रस्तुत किया गया है अत: हमें उनसे प्रेरणा लेनी चाहिए। इस मौके पर कलेक्ट्रेट नाजिर जगदीश यादव, स्टेनो दिलीप कुमार, डीएसओ सुनील कुमार, सीबीओ डीएन लवानिया आदि लोग मौजूद रहे। इस दौरान सीडीओ सौम्या पांडेय, नोडल अधिकारी अपर जिलाधिकारी प्रशासन पंकज वर्मा के निर्देशन में जनपद की सभी तहसीलों अकबरपुर में एसडीएम आनन्द कुमार सिंह, सिकंदरा आरसी यादव, डेरापुर में ऋषिकान्त राजवंशी, रसूलाबाद अंजू वर्मा, भोगनीपुर दीपाली भार्गव, मैथा रामशिरोमणि व नगर पंचायत शिवली चेयरमैन अवधेश शुक्ला ने प्रतिमा पर माल्यर्पण किया। वाल्मीकि रामायण में निहित मानव मूल्यों, समाजिक मूल्यों व राष्ट्र मूल्यों के व्यापक प्रचार प्रसार व जनमानस को इससे जोड़ने के लिए जनपद के महर्षि वाल्मीकि से सम्बन्धित स्थलों, मंदिरों आदि पर दीप प्रज्ज्वलन के साथ साथ वाल्मीकि रामायण का पाठ किए गए। इसी तरह नगर पंचायत रूरा, वृद्धा आश्रम अकबरपुर आदि स्थानों में हर्षोल्लास के साथ महर्षि वाल्मीकि के चित्र पर माल्यार्पण कर जयंती मनाई गयी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Programs organized on Maharishi Valmiki Jayanti