DA Image
25 नवंबर, 2020|10:12|IST

अगली स्टोरी

वन विभाग की जमीन पर दबंग कर रहे धान-गेहूं की खेती

वन विभाग की जमीन पर दबंग कर रहे धान-गेहूं की खेती

रसूलाबाद तहसील क्षेत्र के कई गांवों में वन विभाग की जमीन पर कब्जा कर दबंग खेती कर रहे हैं। विभागीय अधिकारियों की शह पर चल रहा कब्जा कागजों पर खाली हो गया ह६, लेकिन वहां आज भी धान व गेंहू की फसल बोई जा रही है। इसके बावजूद सब जानते हुए भी जिम्मेदार अंजान बने हुए है।

शासन ने सरकारी जमीन पर अवैध क ब्जा जमाए लोगों पर कार्रवाई करने के साथ जमीन मुक्त कराने के निर्देश दिए है। इसके बावजूद क्षेत्र में इसका असर नहीं दिख रहा है। क्षेत्र के बहादुरपुर, गढ़ेवा, कठिका, खेड़ा कुर्सी गांव में वन विभाग की सैकड़ों बीघा जमीन पर दबंग किसान खेती कर रहे हैं। बहादुरपुर वन ब्लॉक में गाटा संख्या 686,718, 1026,421,812 सरकारी अभिलेखों में वन विभाग के नाम दर्ज है, लेकिन इस जमीन पर कई असरदार लोग वषार्ें से कब्जा जमाए हुए हैं। इस जमीन पर बकायदा धान व गेंहू की खेती हो रही है। जमीन कब्जामुक्त कराने को अभियान चल रहा है, लेकिन क्षेत्र में अभियान सिर्फ कागजों तक सीमित रहा। वर्ष 2016 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बहादुरपुर वन ब्लॉक में पहुंचकर पौधारोपण किया था। उस दौरान विभागीय अधिकारियों ने जमीन को कब्जामुक्त कराने का अभियान चलाया, लेकिन दो दिन बाद अभियान ठप हो गया। इसके अलावा तहसील क्षेत्र के अलीपुर रामहार, दलिकपुर, खेड़ा कुर्सी व लाल गांव में भी वन विभाग की सैकड़ों बीघा जमीन पर कब्जा करके खेती की जा रही है। वहीं मामले की जानकारी होने पर भी विभागीय अधिकारी अंजान बने हुए है। इस संबंद में वन दरोगा प्रकाश चंद्र ने बताया कि विभाग की जमीन पर कब्जा किए लोगों के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। शीघ्र ही जमीन खाली कराई जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Paddy-wheat cultivation domineering on forest department land