DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  कानपुर  ›  एनएचएआई ड्रोन से करेगा टूटे राजमार्ग का सर्वे
कानपुर

एनएचएआई ड्रोन से करेगा टूटे राजमार्ग का सर्वे

हिन्दुस्तान टीम,कानपुरPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 05:40 PM
एनएचएआई ड्रोन से करेगा टूटे राजमार्ग का सर्वे

कानपुर।भारी भरकम टोल के बाद भी खराब हाईवे की हालत सुधारने के लिए भारतीय राजमार्ग प्राधिकरण ड्रोन से सर्वे करेगा। राजमार्गों के निर्माण, संचालन और मेंटीनेंस की मासिक वीडियो रिकार्डिंग भी बनेगी, जिसे कोई भी देख सकेगा। खराब राजमार्गों को लेकर यूपी मोटर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन लगातार शिकायतें कर रहा था।

एनएचएआई ने पारदर्शिता, एकरूपता और नवीनतम तकनीक का लाभ उठाने के लिए विकास, निर्माण, संचालन और रखरखाव के सभी चरणों के दौरान हाईवे परियोजनाओं की मासिक वीडियो रिकॉर्डिंग के लिए ड्रोन को अनिवार्य कर दिया है। ठेकेदार और पर्यवेक्षण सलाहकार के टीम लीडर की मौजूदगी में ड्रोन वीडियो की रिकॉर्डिंग होगी। वर्तमान और पिछले महीने के तुलनात्मक प्रोजेक्ट वीडियो को एनएचएआई के पोर्टल डेटा लेक पर अपलोड किया जाएगा। पर्यवेक्षण सलाहकार इन वीडियो का विश्लेषण करेंगे और डिजिटल मासिक रिपोर्ट जारी करेंगे।

जिस हाईवे का निर्माण होना होगा, उसके अनुबंध समझौते पर हस्ताक्षर की तारीख से लेकर निर्माण की शुरुआत तक और परियोजना के पूरा होने तक मासिक ड्रोन सर्वेक्षण किया जाएगा। एनएचएआई उन सभी विकसित परियोजनाओं में भी ड्रोन सर्वेक्षण भी करेगा, जहां संचालन और रखरखाव के लिए एनएचएआई खुद जिम्मेदार है। चूंकि ये वीडियो डेटा लेक पर अपलोड किए जाएंगे, इसलिए विवाद की स्थिति में इन्हें सबूत के रूप में अदालत भी पेश किया जा सकेगा।

संबंधित खबरें