DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › कानपुर › पत्नी की हत्या करने वाले पति को आजीवन कारावास
कानपुर

पत्नी की हत्या करने वाले पति को आजीवन कारावास

हिन्दुस्तान टीम,कानपुरPublished By: Newswrap
Tue, 03 Aug 2021 08:20 PM
पत्नी की हत्या करने वाले पति को आजीवन कारावास

दहेज के लिए पत्नी की गोली मारकर हत्या करने वाले पति को अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश प्रभा नाथ त्रिपाठी ने मंगलवार को उम्रकैद की सजा सुनाई है। अभियुक्त को 55 हजार जुर्माने से दंडित भी किया है। कोर्ट ने आरोपित सौतेले भाई बरी कर दिया है। सुनवाई के दौरान आरोपित ससुर की मौत हो चुकी है।

कुलीबाजार निवासी जुबैर अहमद ने अपनी बेटी साफिया का निकाह 2012 में कुली बाजार कुरैशी हाल के पास रहने वाले माबिया कुरैशी से किया था। शादी के बाद से ससुराल वाले दहेज को लेकर बेटी से मारपीट करते थे। 13 सितंबर, 2015 की रात करीब दो बजे सूचना मिली कि बेटी के साथ ससुराल वाले मारपीट कर रहे हैं। बेटे दानिश के साथ साफिया के घर पहुंचा तो देखा कि माबिया ने साफिया के सिर पर गोली मार दी। बेटी को लेकर उर्सला और फिर हैलट पहुंचे, जहां उसकी मौत हो गई। पुलिस ने माबिया को घटना के दो दिन बाद 15 सितंबर को कुली बाजार सुरसा मंदिर के पास से गिरफ्तार किया था। उसके पास से तमंचा भी बरामद हुआ था। एडीजीसी प्रद्युम्न अवस्थी ने बताया कि पति माबिया और ससुर रफीक कुरैशी पर मुकदमा दर्ज था। रफीक की दौरान मुकदमा मौत हो गई। सौतेले भाई चांद बाबू को कोर्ट ने बरी कर दिया है।

पुत्री पैदा होने पर भी किया प्रताड़ित

साफिया के जब गर्भ से बेटी अरफा का जन्म हुआ तो ससुराल वालों ने उसे और प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। इससे पहले भी हर बार मायके आने पर ससुराल वाले 50 हजार रुपये मांगते थे।

संबंधित खबरें