Kerosene will not be available if there is an LPG and electricity connection - एलपीजी व बिजली कनेक्शन होने पर नहीं मिलेगा केरोसिन DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एलपीजी व बिजली कनेक्शन होने पर नहीं मिलेगा केरोसिन

default image

अब एलपीजी व बिजली कनेक्शन की सुविधा होने पर राशन कार्ड धारकों को सितंबरा माह से केरोसिन की सुविधा नही मिलेगी। इस नियम के लिए शासन ने सख्त निर्देश दिए हैं। इस पर आयुक्त खाद्य एवं रसद के निर्देश पर जिला पूर्ति विभाग गैस एजेंसियों व बिजली विभाग से उपभोक्ताओं की सूचना एकत्र कर रहा है। डाटा एकत्र होने के बाद केरोसिन बंद करने की कार्रवाई की जाएगी। वहीं कोटेदारों को खाद्यान्न वितरित करते समय कार्डधारक के एलपीजी व बिजली कनेक्शन होने की जानकारी रजिस्टर पर दर्ज करने के निर्देश दिए गए है।

शासन राशन कार्डधारकों को उचित दर पर खाद्यान्न के साथ केरोसिन भी उपलब्ध कराता है। इससे ग्रामीण अंचलों में लोगों को रोशनी करने के लिए फायदा मिलता है। पिछले कुछ समय से केरोसिन की कालाबाजारी होने से कार्डधारकों को केरोसिन नही मिल रहा है। इस पर शासन ने नियम में बदलाव किया है। अब घर में बिजली व एलपीजी कनेक्शन होने पर कार्डधारक को सितंबर माह से केरोसिन की सुविधा नहीं मिलेगी।

इस पर आयुक्त खाद्य एवं रसद आलोक कुमार ने सभी जिला पूर्ति अधिकारी को पत्र लिखकर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है। जिला पूर्ति अधिकारी अंशिका दीक्षित ने बताया कि शासन के निर्देश पर जनपद की सभी गैस एजेंसियों व बिजली विभाग से एलपीजी व बिजली कनेक्शन धारकों की ग्राम पंचायत वार सूची मांगी गई है। साथ ही दोनों वस्तुओं का उपभोग कर रहे उपभोक्ताओं का सर्वे भी कराया जा रहा है। कार्डधारकों के बिजली व एलपीजी कनेक्शन दोनों होने पर केरोसिन की सुविधा बंद कर दी जाएगी। यह नियम सितंबर माह से लागू होगा। विभाग बिजली व एलपीजी कनेक्शन दोनों का उपभोग कर रहे लाभार्थियों की संख्या व प्रतिशत मात्रा शासन को भेजेगा।

राशन लेते समय देनी होगी जानकारी

राशन कोटेदार भी इस नियम के तहत अपनी जिम्मेदारी निभाएंगे। राशन कोटेदार खाद्यान्न व केरोसिन वितरित करते समय कार्डधारक से रजिस्टर पर एलपीजी व बिजली कनेक्शन का प्रयोग करने की जानकारी दर्ज कराएंगे। साथ ही कार्डधारक के हस्ताक्षर भी कराना होगा। इस नियम से केरोसिन की कालाबाजारी पर अंकुश लगने के साथ पात्रों की लाभ मिलेगा।

3 लाख 33 हजार कार्डधारकों को मिल रहा है केरोसिन

जनपद में वर्तमान में कुल 3 लाख 33 हजार 302 राशन कार्ड धारक है। इसमें अंत्योदय कार्ड के 50 हजार 768 व पात्र गृहस्थी के 2 लाख 82 हजार 534 राशन कार्डधारक है। उक्त कार्डधारक इस समय केरोसिन का लाभ ले रहे हैं। इसमें पात्र गृहस्थी कार्ड पर 1 लीटर व अंत्योदय कार्ड पर 3 लीटर केरोसिन दिया जा रहा है। सर्वे के बाद इस आंकड़े में काफी हद तक बदलाव होगा, क्योंकि ज्यादातर घरों में एलपीजी व बिजली कनेक्शन हो गए हैं। इस नियम से पात्र लाभार्थियों को केरोसिन मिलने में समस्या नहीं उठानी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kerosene will not be available if there is an LPG and electricity connection