DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

1972 से जलभराव से जूझ रहा घाटमपुर, समस्याअों को सुनने वाला पालिकाध्यक्ष चाहिए

मतदान का संकल्प लेते घाटमपुर से लोग।

दो घंटे की बारिश में लाखों का नुकसान और कई दिन तक समस्याओं से लोग जूझते हैं। यह हकीकत है, घाटमपुर की। 1972 से जल निकासी दूर करने का आश्वासन मिल रहा है। हर चुनाव समस्या दूर करने के वादे पर लड़ा जाता है, मगर जीतने के बाद अब तक किसी ने हल नहीं निकाला। चेयरमैन काली फिल्म लगे शीशे वाली कार से झांकने वाला नहीं बल्कि आम जनता के साथ उठने-बैठने वाला हो। शहर को डूबने से बचाने वाला हो। यह बातें 'हिन्दुस्तान' के 'आओ राजनीति करें' महाअभियान के तहत मंगलवार को घाटमपुर नगर पालिका के अधिवक्ता, समाजसेवी और युवाओं के साथ संवाद में सामने आई।
सचान गेस्ट हाउस में आयोजित संवाद में तहसील को बेहतर बनाने की चिंता एक मंच से सभी ने मिलकर व्यक्त की। घाटमपुर नगर पालिका की बड़ी समस्या जलभराव पर वक्ताओं ने कहा कि कई चुनाव सिर्फ जल निकासी की समस्या दूर करने के वादे कर लड़े गए। सड़क हर छह महीने में ऊंची हो रही है। मकान गहरे में जा रहे हैं। सीढ़ी लगाकर लोग घर में नीचे उतरते हैं। सुपर हाईवे निर्माण के समय नाला निर्माण के लिए प्लान तैयार किया गया मगर उसका पता नहीं चला।  व्यापारियों ने कहा कि जीतने के बाद लोग लखनऊ और दिल्ली वाले हो जाते हैं। लाइब्रेरी, शादीघर, स्कूल, जाम, अतिक्रमण व अवैध कब्जे के बारे में चेयरमैन नहीं तो कौन सोचेगा। अधिवक्ताओं ने कहा कि जो अध्यक्ष बनता है पब्लिक को भूल जाता है। अगर बीच में आकर समस्याएं सुने तो राहत मिले। करोड़ों रुपए बजट आते हैं मगर पुराने निर्माण को नया बनाकर बजट साफ कर दिया जाता है। लोगों से राय लेकर उपयोगी मद में बजट खर्च करने की व्यवस्था हो। 
विभागों में समन्वय नहीं, सड़क बार-बार खोदते हैं
नगर पालिका में किसी विभाग में समन्वय नहीं है। एक विभाग सड़क बनाता है तो दूसरा उसकी खुदाई करता है। सड़क बार-बार खोदते हैं। कभी जल निगम तो कभी बिजली विभाग तो कभी सिंचाई विभाग सड़कों को खोद देता है।  कभी-कभी तो ऐसा होत है कि एक तरफ सड़क बन रही है तो दूसरी ओर खुदाई हो रही है। जनता का पैसा बर्बाद होता है। लोगों को दुश्वारी अलग से होती है। लटकते बिजली के तार भी जानलेवा हैं। महीनों तार लटके रहते हैं जब कोई हादसा होता है तब उसे ठीक किया जाता है। 

  • नगर पालिका की बड़ी समस्याएं 
  • जल निकासी की व्यवस्था नहीं, नाला निर्माण 25 साल से एजेंडे में
  • हाईवे निर्माण में हर साल सड़क ऊंची हो रही मकान गहराई मे जा रहे
  • कूष्मांडा देवीमंदिर के तीर्थयात्रियों के लिए सुविधाएं होनी चाहिए
  • पुस्तकालय, शादीघर, पार्क और अच्छे स्कूल की व्यवस्था हो 
  • तालाबों से अवैध कब्जे हटाकर पब्लिक के लिए सुविधाएं बढ़े
  • भीड़भाड़ वाले स्थानों पर सावर्जनिक सुलभ शौचालयों का निर्माण
  • जाम से निजात मिले और ट्रैफिक पुलिस की 24 घंटे ड्यूटी हो
  • ऐसा हो नगर पालिकाध्यक्ष
  • नगर का निवासी हो, नगर की बुनियादी दिक्कतों की उसे समझ हो
  • चुने जाने के बाद वह लखनऊ और दिल्ली का न हो जाए, शहर में रहे
  • वीवीआईपी कल्चर छोड़ जनता के बीच उठे-बैठे, जनता से संवाद रखे
  • समस्या निवारण समय से करे, जनता से राजनीति नहीं करे
  • भारी मतदान करने की शपथ ली

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Ghatampur battling waterfowl since 1972