ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश कानपुरजल निकासी को सीसामऊ नाले की रिटेनिंग वाल में किया जाएगा छेद

जल निकासी को सीसामऊ नाले की रिटेनिंग वाल में किया जाएगा छेद

आधे-एक घंटे की बारिश में भी सीसामऊ नाले के उफान पर नियंत्रण करने के लिए शुक्रवार को ठोस पहल की गई। खलासी लाइन और ग्वालटोली में भारी जलभराव से निजात...

जल निकासी को सीसामऊ नाले की रिटेनिंग वाल में किया जाएगा छेद
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,कानपुरFri, 05 Aug 2022 08:50 PM
ऐप पर पढ़ें

आधे-एक घंटे की बारिश में भी सीसामऊ नाले के उफान पर नियंत्रण करने के लिए शुक्रवार को ठोस पहल की गई। खलासी लाइन और ग्वालटोली में भारी जलभराव से निजात के लिए अब नाले की रिटेनिंग वाल में दो गुना एक मीटर का छेद किया जाएगा।ताकि पानी बैक होने की जगह गंगा की तरफ बढ़ता रहे।

नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन ने सीसामऊ नाले के टैपिंग स्थल का निरीक्षण किया। नाले का गेट खुला हुआ था मगर बारिश के वक्त फ्लो से पानी आगे न बढ़ने के कारणों की तलाश की गई। आखिरकार नगर आयुक्त ने प्रभारी जोनल अभियंता सतीश कमल को निर्देश दिया कि रिटेनिंग वाल में होल बनाया जाए। गुरुवार की आधी रात जब बारिश हुई थी तो न सिर्फ खलासी लाइन बल्कि वीआईपी रोड पर भी भारी जलभराव हुआ था। ग्वालटोली भी लबालब था। स्थिति यह रही कि फूलबाग फलमंडी से कैनाल पटरी की तरफ जाने वाली रोड पर शुक्रवार को दोपहर बाद तक भारी जलभराव रहा। नगर आयुक्त ने निर्देश दिया है कि ऐसे सभी प्वाइंट को चिह्नित कर जल निकासी के इंतजाम किए जाएं।

सफाई में लापरवाही पर वेतन काटने का निर्देश

नगर आयुक्त ने रावतपुर आरक्षण केंद्र के बाहर से गीता नगर क्रॉसिंग तक साइड पटरी का निरीक्षण किया। जगह-जगह गंदगी पाई गई। लापरवाही पर सफाई निरीक्षक का एक दिन का वेतन काटने का निर्देश दिया। छपेड़ा पुलिया के पास अनुराग नर्सिंग होम के सामने ग्रीन बेल्ट के भीतर 25 वीं बार कूड़ा पड़ा देखा। नमक फैक्टरी चौराहे से शनेश्वर मंदिर तक ग्रीन बेल्ट का निरीक्षण किया। खाली स्थानों पर ग्रीन बेल्ट विकसित करने को कहा। पनकी भव सिंह स्थित कूड़ा निस्तारण प्लांट में बनाए जा रहे शव निस्तारण प्लांट को भी देखा।

epaper