DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › कानपुर › अनुवांशिक खोज में तकनीक की मदद से तैयार करें नई प्रजाति
कानपुर

अनुवांशिक खोज में तकनीक की मदद से तैयार करें नई प्रजाति

हिन्दुस्तान टीम,कानपुरPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 06:30 PM
अनुवांशिक खोज में तकनीक की मदद से तैयार करें नई प्रजाति

कानपुर। वरिष्ठ संवाददाता

डीएवी डिग्री कॉलेज में सोमवार को डॉ. नागेंद्र स्वरूप मेमोरियल लेक्चर सीरीज के तहत वनस्पति विज्ञान विभाग में व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया। केंद्रीय विश्वविद्यालय पंजाब के डॉ. विनय कुमार ने आधुनिक जैव प्रौद्योगिकी के तहत फसलों के नियम और आधुनिक तकनीक का उपयोग करने के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सीआरआईएसपीआर तकनीक के माध्यम से अनुवांशिक खोज में विशेष स्थानों की एडिटिंग की जा सकती है और एक ऐसी फसल का विकास किया जा सकता है जो अच्छी उपज दे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कॉलेज के प्राचार्य डॉ. अमित कुमार श्रीवास्तव और स्वागत डॉ. सुधीर कुमार श्रीवास्तव ने किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. चारू चतुर्वेदी ने किया। इस मौके पर डॉ. नरेंद्र कुमार शुक्ला, डॉ. जावेद अहमद सिद्दीकी समेत सभी शिक्षक व छात्र मौजूद रहे।

संबंधित खबरें