Counting will be done with CCTV video recording - सीसीटीवी के साथ ही मतगणना की होगी वीडियो रिकॉर्डिंग DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीसीटीवी के साथ ही मतगणना की होगी वीडियो रिकॉर्डिंग

सीसीटीवी के साथ ही मतगणना की होगी वीडियो रिकॉर्डिंग

लोकसभा चुनाव के लिए कल होने वाली मतगणना को अंतिम रूप दे दिया गया है। मतगणना हाल में सीसीटीवी निगरानी के साथ ही वीडियोग्राफी भी कराई जाएगी। वहीं हर विधानसभा के लिए आयोग से अलग-अलग प्रेक्षक की तैनाती की गई है। इनकी निगरानी में मतगणना का पूरा काम होगा।

लोकसभा चुनाव की मतगणना के लिए प्रशासन ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है। जनपद की चार विधानसभा सीटें चार अलग-अलग लोकसभा सीटों से जुड़ी होने के कारण इनकी मतगणना करा कर इनके परिणाम संबंधित लोकसभा के आरओ के पास भेज दिए जाएगें। परिणाम की घोषणा लोकसभा क्षेत्र के आरओ ही करेंगे। मंगलवार को मतगणना की तैयारियों के बाबत डीएम राकेश कुमार सिंह व एसपी राधेश्याम ने प्रेस वार्ता करके जानकारी दी। डीएम ने कहाकि मतगणना में मतगणना हाल के अंदर किसी को भी इलेक्ट्रानिक गैजेट्स कैलकुलेटर आदि ले जाने की इजाजत नहीं होगी। उन्होंने कहाकि पूरे परिसर को सीसीटीवी से लैस किया गया है। इसके अलावा हर मतगणना हाल में वीडियो रिकॉर्डिंग भी कराई जाएगी। मतगणना के दौरान कंट्रोल यूनिट न खुलने या खराबी पर उस बूथ की गणना वीवीपैट से होगी। इसके अलावा यदि कहीं पर पीठासीन अधिकारी मॉक पोल कराने के बाद उसे क्लीयर नहीं कर पाया है तो इस तथ्य के संज्ञान में आने के बाद आयोग की अनुमति पर वहां की भी मतगणना वीवीपैट से ही होगी। यदि किसी बूथ की कंट्रोल यूनिट को लेकर किसी की शिकायत है तो उस पर एआरओ की रिपोर्ट के बाद आरओ वीवीपैट से मतगणना कराने का निर्देश दे सकता है। इसके अलावा हर विधानसभा से पांच कंट्रोल यूनिट और वीवीपैट का मिलान भी कराया जाएगा।

मतगणना स्थल पर नेट की सेवा के लिए बीएसएनएल की लाइन डाल दी गई है। वहीं विकल्प के रूप में एक निजी कंपनी के नेट का भी प्रयोग किया जाएगा। एसपी राधेश्याम ने बताया कि बिना पास के किसी भी व्यक्ति को मतगणना स्थल पर प्रवेश की इजाजत नहीं मिलेगी। इसके साथ मीडिया को भी सिर्फ मीडिया सेंटर तक जाने की अनुमति रहेगी। सुरक्षा व्यवस्था के लिए हर टेबिल पर एक सिपाही की तैनाती की गई है। इसके अलावा 14 टेबिल पर तीन दरोगा व एक सीओ भी निगरानी के लिए मौजूद रहेगें। केन्द्रीय बलों की दो कंपनी के अलावा एक कंपनी पीएसी को भी मतगणना स्थल पर तैनात किया गया है।

रसूलाबाद के दो बूथों की गिनती वीवीपैट से होगी

रसूलाबाद विधानसभा के बूथ संख्या 44 व बूथ संख्या 325 की मतगणना वीवीपैट से होगी। डीएम ने बताया कि इन बूथों पर मॉकपोल के बाद सीयू में पड़े वोट पीठासीन अधिकारी ने क्लीयर किए बगैर मतदान शुरू करा दिया था। इस पर जानकारी आने के बाद रिपोर्ट आयोग को भेजी गई थी। आयोग ने इन दोनों बूथों की गिनती वीवीपैट से कराने के निर्देश दिए हैं।

चार विधानसभाओं के लिए नामित हुए प्रेक्षक

डीएम ने बतायाकि मतगणना की पूरी निगरानी आयोग के प्रेक्षक भी करेंगे। इसके लिए रसूलाबाद विधानसभा में अजय कुमार सूद, अकबरपुर-रनियां में के नागेन्द्र राव, सिकंदरा के लिए दिलीप गुप्टे व भोगनीपुर के लिए वीवी गायकवाड को प्रेक्षक नामित किया गया है। इनकी निगरानी में मतगणना का काम पूरा किया जाएगा।

सुविधा पोर्टल पर दिखेगा राउंड वार परिणाम

डीएम ने बताया कि मतगणना की जानकारी के लिए आयोग ने सुविधा पोर्टल उपलब्ध कराया है। इस पोर्टल पर प्रत्येक राउंड की मतगणना के बाद उसे अपलोड किया जाएगा। इससे कोई भी इस पोर्टल के जरिए मतगणना की जानकारी आसानी से प्राप्त कर लेगा। वहीं प्रत्येक राउंड में परिणाम पूरा होने के बाद उसे वहां लगे बोर्ड पर डिसप्ले किया जाएगा। ये प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही दूसरे राउंड की गिनती शुरू होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Counting will be done with CCTV video recording