DA Image
12 अगस्त, 2020|1:11|IST

अगली स्टोरी

जिले के 1.42 लाख किसानों को नहीं मिली पीएम सम्मान निधि की पहली किस्त

जिले के 1.42 लाख किसानों को नहीं मिली पीएम सम्मान निधि की पहली किस्त

साहब, रामभरोसे भीतरगांव में किसानी करत हूं। पिछले साल किसान सम्मान निधि की तीनों किस्त मिली राहे। इस बार पड़ोस के किसानन की आ गई। हमरी नाही आई। खाने के लाले हैं। कैसे गुजर बसर हुईए। कोई लफड़ा तो ना ही होई गवा। रोटी दाल का पैसा नाही है। लगातार इस तरह की शिकायतें किसान सम्मान निधि कंट्रोल रूम में आ रही है। फिर भी किसानों को सम्मान निधि का पैसा नहीं मिला। वह मायूस और परेशान है।

प्रदेश सरकार ने किसानों को लॉकडाउन में परेशानी से उभारने के लिए पीएम किसान सम्मान निधि के रूप में साल भर में मिलने वाले छह हजार रुपए की पहली किस्त एडवांस में देने का फैसला किया था। अप्रैल महीने में 1.38 लाख किसानों के खाते में प्रति किसान दो-दो हजार रुपए आ भी गए है। अभी तक जिले में 1.42 लाख किसानों के खाते में दो हजार रुपए नहीं आए हैं। इससे किसान परेशान है। सीएम पोर्टल से लेकर ब्लॉक तक में शिकायत कर रहे हैं। इसको देखते हुए कृषि भवन में बनाए गए कंट्रोल रूम में लगातार शिकायतें आ रही हैं। पैसा न आने से किसानों को खाने के लाले हो गए है। उनको दो जून की रोटी तक नहीं मिल पा रही है। फसल की बुआई तो दूर की बात है। उप निदेशक कृषि धीरेंद्र सिंह ने बताया कि किसानों की समस्या को देखकर कंट्रोल रूम खुलवाया गया है। लगातार आ रही शिकायतों को दूर कराया जा रहा है।

60 हजार के आधार कार्ड गलत

पीएम किसान सम्मान निधि के लिए आधार जरूरी कर दिया है। ऐसे में करीब 60 हजार किसानों के आधार कार्ड ही गलत हैं। उनका नाम आवेदन में अलग और आधार कार्ड में अलग है। ऐसे में उनकी निधि रुक गई है। इसी तरह से कई किसानों के आधार कार्ड बने ही नहीं हैं। ऐसे में उन लोगों को पैसा नहीं मिल सका है। उप निदेशक ने बताया कि किसानों की आधार कार्ड संबंधी गड़बड़ी को दूर कराया जा रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:1 42 lakh farmers of the district did not get first installment of PM Samman Nidhi