DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  कन्नौज  ›  दो बच्चों को रोता-बिलखता छोड़ पिता के घर गई महिला

कन्नौजदो बच्चों को रोता-बिलखता छोड़ पिता के घर गई महिला

हिन्दुस्तान टीम,कन्नौजPublished By: Newswrap
Sat, 12 Jun 2021 04:40 AM
दो बच्चों को रोता-बिलखता छोड़ पिता के घर गई महिला

सौरिख। संवाददाता

थाना क्षेत्र के सुल्तानपुर गांव में प्रेमी के घर रह रही महिला अपने दो मासूम बच्चों को रोता-बिलखता छोड़कर अपने पिता के साथ गाजियाबाद चली गई। यह मामला पूरे दिन यहां चर्चा का विषय बना रहा।

सुल्तानपुर गांव निवासी ब्रजेश कुमार पाल गाजियाबाद के लोनी में सब्जी बेंचने का काम करता था। पड़ोस में रहने वाली एक युवती उससे सब्जी लेने आती थी। इसी बीच दोनों में प्रेम संबंध हो गए। युवती का पिता हत्या के मामले में वर्ष 2014 में जेल चला गया। तभी युवती ने अपने प्रेमी ब्रजेश से मंदिर में शादी रचाई ली और पिता के ही घर दोनों रहने लगे। आठ माह पहले ब्रजेश के ताऊ जागेश्वर का अचानक निधन हो गया। इस पर वह अपनी पत्नी और बच्चों को लेकर गांव आ गया। इसके बाद वह वापस लोनी नहीं गया। शुक्रवार को महिला का पिता जानकारी कर थाने पहुंचा और उसने मामले की शिकायत दर्ज कराई कि उसकी बेटी को ब्रजेश और उसके परिजन प्रताडि़त कर रहे हैं। इस पर पुलिस ने उन लोगों को थाने बुला लिया। पूछताछ के दौरान महिला ने अपने पिता श्याम सिंह के साथ जाने की बात कही। हालांकि उसके पति और अन्य परिजनों ने काफी समझाया, लेकिन वह तैयार नहीं हुई। यहां तक कि उसने अपनी दोनों बेटियां पांच वर्षीय कोमल व दो वर्षीय लाली को अपने साथ ले जाने से ही मना कर दिया। वह अपने साथ सिर्फ एक वर्षीय बेटे को साथ ले गई है। महिला के जाते ही उसके दोनों बच्चों का रो-रोकर बुराहाल हो गया, लेकिन वह अपने बच्चों के आंसुओं को देख फिर भी नहीं पसीजी और अपने पिता के साथ चली गई।

संबंधित खबरें