DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  कन्नौज  ›  एक्सप्रेस-वे पर हुए हादसे के मृतक आश्रितों ने की मुआवजे की मांग
कन्नौज

एक्सप्रेस-वे पर हुए हादसे के मृतक आश्रितों ने की मुआवजे की मांग

हिन्दुस्तान टीम,कन्नौजPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:20 AM
एक्सप्रेस-वे पर हुए हादसे के मृतक आश्रितों ने की मुआवजे की मांग

सौरिख। संवाददाता

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर बिहार से दिल्ली जा रही स्लीपर बस कार से टकराकर पलटा खाते हुए नीचे जा गिरी थी। हादसे में बस पर सवार बिहार के मजदूर समेत छह लोगों की मौत हो गई थी। जबकि 33 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। मृतक के परिजनों ने प्रदेश सरकार से मुआवजे की मांग की है।

आगरा-लखनऊ-एक्सप्रेस-वे पर पिछले साल 19 जुलाई को सुबह करीब पांच बजे किलोमीटर 147 पर रसूलपुर गांव के पास बिहार से दिल्ली जा रही स्लीपर बस खड़ी कार से टकराकर नीचे जाकर पलट गई थी। जिससे बिहार के गोपालगंज के थाना तिगवैया के गांव लोहिजरा निवासी चंद्रिका राय पुत्र भगेलराम, लक्ष्मी शाह पुत्र साधू शाह, मोतीलाल ठाकुर पुत्र चंद्रिका ठाकुर व अशर्फी प्रसाद पुत्र रामविलास उर्फ विनोद निवासी इकडड़वा थाना बैकुंठपुर गोपालगंज, लालबाबू राय पुत्र ईरानी राय निवासी सुकरौली थाना मनिहारी मुजफ्फरपुर और राजेंद्र पुत्र छोटू राम निवासी खेड़ा कला थाना भूपानी फरीदाबाद हरियाणा की मौत हो गई थी। जबकि 33 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। घायलों को मिनी पीजीआई सैफई तथा मेडिकल कॉलेज तिर्वा भर्ती कराया गया था। पुलिस ने अज्ञात ड्राइवर के नाम मुकदमा पंजीकृत कराते हुए शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। 24 फरवरी को बिहार के भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक मिथिलेश तिवारी ने उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री से मृतक चंद्रिका राय, लक्ष्मी शाह, मोतीलाल ठाकुर, अशर्फी प्रसाद, के परिवार को आपदा विभाग से मुआवजे की मांग करते हुए अवगत कराया था की मृतकों की मृत्यु दूसरे राज्य में होने के कारण मुआवजा राशि अपने प्रदेश में मिलने का प्रावधान नहीं है, जबकि मृतकों के परिवार अत्यंत निर्धन हैं। 23 मार्च को अनुभाग अधिकारी मुख्यमंत्री कार्यालय अनुभाग- 5 से डीएम कन्नौज को पत्र भेजकर आख्या देने के निर्देश दिए गए हैं। डीएम के निर्देश पर बुधवार को लेखपाल राकेश कुमार वर्मा ने थाने पहुंचकर घटना से संबंधित पत्रों को प्राप्त किया है।

संबंधित खबरें