DA Image
6 मार्च, 2021|1:38|IST

अगली स्टोरी

नेता सुभाषचंद्र के विचारों से युवा लें प्रेरणा

नेता सुभाषचंद्र के विचारों से युवा लें प्रेरणा

छिबरामऊ। हिन्दुस्तान संवाद

नगर के नेहरू महाविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत नेता सुभाषचंद्र बोस की जयंती को पराक्रम दिवस के रूप में मनाया गया। इस दौरान छात्र-छात्राओं ने अपने विचार व्यक्त कर नेताजी के विचारों से प्रेरणा लेनी की बात कही।

नेताजी सुभाषचंद्र बोस के चित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए कालेज के प्राचार्य डॉ.आरएन राय ने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम में योगदान देने वाले नेताजी हमारे सबसे प्रिय राष्ट्र नायकों में से एक हैं। उनकी देश भक्ति और बलिदान से सदैव प्रेरणा मिलती रहेगी। उनके विचारों से देश के युवाओं को प्रेरणा लेनी चाहिए। एनएसएस के कार्यक्रम अधिकारी डॉ.आशीष कुमार गुप्ता ने कहा कि सुभाषचंद्र बोस अपने विचारों व व्यक्तित्व के धनी थे। साहित्यिक व सांस्कृतिक समिति की संयोजक बबिता यादव ने कहा कि उन्होंने देश को आजाद कराने के लिए आजाद हिंद फौज का गठन किया था। सोशल मीडिया प्रभारी डॉ.यूपी सिंह ने कहा कि हम सभी को नेताजी के विचारों और व्यक्तित्व से प्रेरणा लेनी चाहिए। कार्यक्रम को छात्र शिवकांत पांडेय, अंतरिक्ष चौहान आदि ने भी विचार व्यक्त किए। इस दौरान डॉ.जयवीर सिंह, डॉ.मनोज गर्ग, प्रो.प्रियंका, प्रो.धर्मवीर सिंह, प्रो.सर्वेश कुमार, सत्यम गुप्ता, योगेंद्रप्रताप सिंह आदि मौजूद रहे।

आजाद हिंद फौज के संस्थापक को किया याद

गुरसहायगंज। आजाद हिंद फौज के संस्थापक और तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आजादी दूंगा का युवाओं को नारा देने वाले सुभाष चन्द्र बोस के बताए मार्ग पर चलकर आज का युवा आगे बढ़ सकता है। देश की आजादी का बिगुल फूंककर जाति धर्म के बंधन को दरकिनार करने वाले नेता जी को भुलाया नहीं जा सकता। यह बात कांग्रेस पूर्व जिलाध्यक्ष विजय मिश्र ने कही।

शनिवार को नगर के रामगंज स्थित गोमती देवी आदर्श इंटर कालेज में पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में नेता जी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती को मनाया गया। इस दौरान मौजूद लोगों ने नेता जी के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित कर नमन किया और उनके बताए गए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। पूर्व जिलाध्यक्ष ने कहा कि स्वाधीनता आंदोलन को आगे बढाने के लिए दिल्ली चलो का नारा देने वाले नेता जी ने युवाओं में जोश भरने का कार्य किया। देश की आजादी में उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। इस दौरान नगर अध्यक्ष संजीव दुबे मुन्ना, प्रबल प्रताप सिंह, राजेश मिश्रा, विक्रांत कुशवाहा, श्रुति मिश्रा, अतुल मिश्रा, डा0 आरपी सैनी, रामू त्रिपाठी, सतीश चन्द्र शर्मा आदि मौजूद रहे।

पराक्रम दिवस के रुप में मनाई बोस की जयंती

गुरसहायगंज। सुभाष चन्द्र बोस का गुरसहायगंज तिराहे पर 25 फरवरी 1940 को आगमन हुआ था। इस दौरान उन्होने भाषण में लोगों में देश की आजादी के लिए तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूँगा, और चलो दिल्ली के आवाहन लिए लोगों में जोश भरा था। नेताजी ने 21 अक्टूवर 1943 को आजाद हिंद सरकार का गठन किया था। इस सरकार को 9 देशो जर्मनी, जापान, फिलीपिंस, चीन इटली आयरलैंड आदि ने मान्यता दी थी। यह बात टीयूसीसी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हंसराज अकेला ने कही।

शनिवार को नगर के मोहल्ला रामगंज स्थित अन्नपूर्णा गेस्ट हाउस में ट्रेड यूनियन को-आडीनेशन सेंटर के द्वारा सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयन्ती पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें मौजूद लोगों ने उनके चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित कर उन्हे याद किया। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आजाद हिंद सरकार ने हर क्षेत्र में योजनाएं बनाकर अपनी बैंक मुद्रा, डाकटिकट, गुप्तचर विभाग आदि की स्थापना की थी। उन्होने पूरे देश में घूमकर क्रान्तिकारी युवाओं, जनता को देश की पूर्ण स्वतन्त्रता के लिए आगे आने का आवाह्वन किया था। इस दौरान दवीरुल हसन, रणवीर सिंह, अशोक कटियार, केके राठौर, शफीक खान, प्रहलाद, सरोजनी सक्सेना, प्रेम सिंह, करन सिंह आदि मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Take inspiration from leader Subhash Chandra 39 s thoughts