DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  कन्नौज  ›  करमुल्लापुर के किसानों को मुआवजा दिलाने को सौंपा ज्ञापन
कन्नौज

करमुल्लापुर के किसानों को मुआवजा दिलाने को सौंपा ज्ञापन

हिन्दुस्तान टीम,कन्नौजPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:20 AM
करमुल्लापुर के किसानों को मुआवजा दिलाने को सौंपा ज्ञापन

छिबरामऊ। संवाददाता

एनएच-91 जीटी रोड हाइवे में अधिग्रहित की जा रही जमीनों का किसानों को मुआवजा दिलाए जाने की मांग को लेकर भाकियू ने भूमि अधिग्रहण कार्यालय कानपुर के डीएम को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा।

भाकियू जिलाध्यक्ष राजा शुक्ला ने बताया कि क्षेत्र के करमुल्लापुर गांव में पावर हाउस के सामने जीटी रोड किनारे जमीन स्थित है, जो कि एनएच-91 राजमार्ग में अधिग्रहित की जा रही है। इस मौजे के कारण जले हुए हैं। ऐसे में संबंधित किसानों को मुआवजा नहीं दिया जा रहा है, जिससे उन्हें बेहद नुकसान उठाना पड़ रहा है। ऐसी स्थिति में अधिग्रहित की गई जमीन का मुआवजा संबंधित किसानों को दिलाया जाए। यदि भूमि का मुआवजा किसानों को नहीं दिलाया गया, तो पीडि़त न्यायालय जाने को मजबूर होंगे। उन्होंने इस संबंध में भूमि अधिग्रहण कार्यालय कानपुर को संबंधित डीएम को संबोधित ज्ञापन एसडीएम देवेश गुप्ता को सौंपा। इस दौरान बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष जीतू श्रीवास्तव, समाजसेवी पुनीत दुबे, प्रदेश प्रवक्ता रजनीश दुबे, रोहित दुबे, अभिषेक पाठक, दीपू त्रिपाठी, महेंद्र कुमार, पंकज सिंह, अखिलेश कुमार, जगवीर सिंह, नरेशचंद्र, सुमित, रामलड़ैते, जितेंद्र सिंह, आशीष कुमार, शिवओम, पातीराम, ईश्वरदयाल व राजकिशोर आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

करमुल्लापुर के पास अंडरपास चौड़ा बनाने की मांग

जीटी रोड हाइवे पर सिकंदरपुर के आगे करमुल्लापुर के पास जो अंदरपास दिया जा रहा है। वह बहुत ही छोटा है। इस संबंध में नगर पंचायत की चेयरमैन उर्वशी दुबे, सिंहपुर की प्रधान सोमवती, सभासद सत्यपाल, आशीष, सुनील कुमार सिंह, हरिश्चंद्र दुबे समेत लगभग एक सैकड़ा से भी अधिक लोगों ने हस्ताक्षरयुक्त पत्र एसडीएम को सौंपा है, जिसमें करमुल्लापुर के पास बड़ा अंडरपास बनाए जाने की मांग की गई है। ग्रामीणों का कहना है कि नगर व ग्रामीण क्षेत्र के साथ ही कानपुर की तरफ से आने वाले यात्रियों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। इसलिए हाइवे के उत्तर दिशा में आने-जाने वाले दोनों तरफ सर्विस रोड से गुजरेंगे, जिससे जाम की स्थिति बनी रहेगी। पावर हाउस के निकट होने के चलते आयेदिन विद्युत हादसा होने का भी खतरा रहेगा। ट्राफिक अधिक होने से दुर्घटनाओं की भी संभावना रहेगी। अंडर पास से क्षेत्र के सिकंदरपुर, करमुल्लापुर, सिंहपुर, नगला छिद्द, धिंगपुर, औराई व हयातनगर समेत कई गांव प्रभावित होंगे।

संबंधित खबरें