DA Image
22 जनवरी, 2021|3:27|IST

अगली स्टोरी

बैंडबाजों के साथ धूमधाम से निकाली गई भव्य कलश यात्रा

बैंडबाजों के साथ धूमधाम से निकाली गई भव्य कलश यात्रा

छिबरामऊ। हिन्दुस्तान संवाद

श्रीराम कथा के साथ शहर में नए वर्ष का स्वागत हुआ है। कथा शुभारंभ से पूर्व शहर में भव्य कलश यात्रा निकाली गई। बैंडबाजों की धुन के साथ कलश यात्रा में महिलाएं सिर पर कलश लेकर चल रहीं थीं। कलश यात्रा का शहर में कई जगह पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया।

श्रीरामलीला कमेटी और अखिल विश्व गायत्री परिवार की ओर से शहर के हीरालाल वीएन इंटर कालेज में श्रीराम कथा का शुभारंभ हुआ। चित्रकूट धाम के जगतगुरू श्रीकामदगिरी पीठाधीश्वर स्वामी श्रीरामस्वरूपाचार्यजी महाराज के सानिध्य में सौरिख रोड स्थित सिद्धपीठ मां कालिकादेवी मंदिर से भव्य कलश यात्रा का शुभारंभ हुआ। बैंडबाजों की धुन पर बज रहे भजनों के साथ लोग नांचते झूमते चल रहे थे। सौरिख रोड से नगर के मुख्य मार्ग होते हुए कलश यात्रा कथा पांडाल पहुंची। कलश यात्रा का शहर में कई जगह पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया। कलश यात्रा में आत्मप्रकाश मिश्रा अपनी पत्नी के साथ श्रीरामचरित मानस पोथी लेकर चल रहे थे, जबकि सबसे आगे कथा वाचक आचार्य पं.प्रशांतानंदजी महाराज चंदन के अलावा श्रीराम लीला कमेटी के अध्यक्ष देवकीनंदन मिश्रा, संजीव चौहान, श्यामू चौहान, आशू तिवारी, टीटू अग्निहोत्री, प्रेममुरारी दुबे आदि प्रमुख लोग भी साथ में मौजूद थे।

इन जगहों पर हुई पुष्प वर्षा

श्रीराम कथा से पूर्व शहर में निकाली गई कलश यात्रा का सौरिख रोड पर भाष्कर चतुर्वेदी, सौरिख तिराहा पर जय चतुर्वेदी, रोडवेज बस स्टेशन पर नरेश गुप्ता, सौरिख बस स्टाप पर श्यामू चौहान, अनुराग त्रिपाठी, नगरपालिका तिराहा पर पिंकी गुप्ता, पुरानी तहसील गेट पर विपिन गुप्ता, हीरालाल कालेज के पास प्रबंधक आलोक गुप्ता टिल्लू ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया।

दिशा और दशा बदलने का काम करती रामचरित मानस

कथा व्यास जगतगुरू रामानंदाचार्य श्रीकामदगिरी पीठाधीश्वर स्वामी श्रीरामस्वरूपाचार्यजी महाराज ने श्रीराम कथा के पहले दिन रामचरित मानस की महिमा का बखान किया। उन्होंने कहा कि रामचरित मानस जीवन में सही दिशा और दशा बदलने का काम करती है। अभिमानी व्यक्ति का विनाश निश्चित होता है। जीवन में अभिमानरहित भगवान की भक्ति करनी चाहिए। राम कथा श्रवण से जीवन बदलता है।