Saturday, January 22, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश कन्नौजप्रेमपुर में मनमाने दाम पर किसानों को बेची जा रही थी खाद

प्रेमपुर में मनमाने दाम पर किसानों को बेची जा रही थी खाद

हिन्दुस्तान टीम,कन्नौजNewswrap
Mon, 29 Nov 2021 11:00 PM
प्रेमपुर में मनमाने दाम पर किसानों को बेची जा रही थी खाद

छिबरामऊ। संवाददाता

क्षेत्र के ग्राम प्रेमपुर में किसानों को मनमाने दाम पर खाद व यूरिया की बिक्री होने की जानकारी मिलने पर भाकियू जिलाध्यक्ष अपने पदाधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे और उन्होंने दुकानदारों को निर्धारित दर पर ही खाद बिक्री करने की चेतावनी दी। इसके साथ ही उन्होंने एडीओ कृषि को मौके पर बुलाकर दुकानदारों की शिकायत की। अधिकारी के पहुंचने पर दुकानदारों की ओर से निर्धारित दर पर खाद की बिक्री की गई।

भाकियू (किसान) के जिलाध्यक्ष राजा शुक्ला ने बताया कि किसानों ने उन्हें जानकारी दी कि प्रेमपुर क्षेत्र में दुकानदारों द्वारा निर्धारित दर से कहीं अधिक दर पर खाद की बिक्री की जा रही है यही नहीं दुकानदारों द्वारा किसानों के साथ अभद्रता भी की जाती है यह जानकारी मिलते ही बाकी जिला अध्यक्ष अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और उन्होंने एडीओ कृषि रत्नेश कुमार दुबे को पूरे मामले से अवगत कराया कुछ ही देर बाद वह भी मौके पर पहुंच गए इसके बाद अधिकारी ने दुकानदारों को चेतावनी देते हुए निर्धारित दर पर ही खाद की बिक्री करने के निर्देश दिए। भाकियू जिलाध्यक्ष ने अपने सामने ही अधिकारी की मौजूदगी में किसानों को खाद की बिक्री कराई। जिलाध्यक्ष ने कहा कि किसानों को कोई छोड़ना नहीं चाहता चाहे सरकार हो या दुकानदार या प्रशासन सभी को सबसे कमजोर किसान नजर आता है और किसान ही हर जगह मारा जाता है, लेकिन अब यह अन्नाय नहीं होने दिया जाएगा। वह किसानों के हित में हर समय तैयार हैं, और किसी भी संघर्ष में पीछे नहीं हटेंगे । इस दौरान अनुराग त्रिपाठी, दिनेश प्रकाश मिश्रा, प्रेम चतुर्वेदी, डॉ अभिषेक पाठक, राशिद खान, आनन्द तिवारी, आलोक यादव, शनि चतुर्वेदी, शांतनु यादव, अमित शाक्य, कुलदीप तिवारी, अनार सिंह पाल, ब्रजेश यादव, दिनेश नायक, शिशुपाल सिंह, सिक्कू त्रिपाठी, गणेश यादव, राहुल यादव, नन्द सिंह, हर्ष शाक्य, अजय गुप्ता,सनोज यादव, संजय कुमार, इशयाक अली, चंद्रप्रकाश सैनी, नरेश सिंह, मो. कलीम, दिलेराम शाक्य, राम शंकर आदि किसान मौजूद रहे।

epaper

संबंधित खबरें