ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश झांसीकार्यकारिणी के छह सदस्यों के निर्विरोध चुनाव की सम्भावनाएं बढ़ी

कार्यकारिणी के छह सदस्यों के निर्विरोध चुनाव की सम्भावनाएं बढ़ी

कार्यकारिणी के छह सदस्यों के निर्विरोध चुनाव की सम्भावनाएं बढ़ीमहेश गौतम को विपक्ष का समर्थन, भाजपा पांच नामों पर नहीं लगी अंतिम मुहर विपक्ष के...

कार्यकारिणी के छह सदस्यों के निर्विरोध चुनाव की सम्भावनाएं बढ़ी
default image
हिन्दुस्तान टीम,झांसीFri, 21 Jun 2024 07:30 PM
ऐप पर पढ़ें

कार्यकारिणी के छह सदस्यों के निर्विरोध चुनाव की सम्भावनाएं बढ़ी

महेश गौतम को विपक्ष का समर्थन, भाजपा के पांच नामों पर नहीं लगी अंतिम मुहर

विपक्ष के समीकरण बिगड़ते ही भाजपा ने सेंध लगाने की रणनीति की तैयार

झांसी,संवाददाता। नगर निगम में छह नए कार्यकारिणी सदस्यों को लेकर शनिवार होने वाला चुनाव निर्विरोध होगा। भाजपा के पांच सदस्यों के साथ ही पिछले दिनों कार्यकारिणी से बाहर हुए बसपा के महेश गौतम का एक बार फिर कार्यकारिणी में पहुंचने का रास्ता साफ हो गया है, महेश विपक्षी खेंमे की दम पर कार्यकारिणी चुनाव में दावा ठोक रहे है।

नगर निगम बोर्ड गठन के बाद 15 जून 2023 को हुए कार्यकारिणी चुनाव में सर्वाधित भाजपा से 9 पार्षद सुशीला दुबे, रमा कुशवाहा, प्रियंका साहू, अंकित राय, नरेन्द्र नामदेव, आशीष चौकसे, मयंक श्रीवास्तव, प्रदीप खटीक, कामेश अहिरवार के अलावा बसपा से महेश गौतम, आप पार्टी से आशीष रायकवार व निर्दलीय विकास खत्री जीते थे। एक साल का कार्यकाल पूरा होने पर पहली बार लाटरी पद्धति से छह पार्षदों को बाहर करने की प्रक्रिया में बसपा के महेश गौतम सहित भाजपा के 5 पार्षद बाहर हो गए। नए सिरे से कार्यकारिणी में छह सदस्यों के चुनाव को लेकर बसपा के महेश गौतम ने एक बार फिर विपक्ष के बलबूते पर कार्यकारिणी में पहुंचने के लिए प्रबल दावेदारी ठोक दी। वहीं भाजपा में देर शाम तक पांच नामों पर मुहर नहीं लग सकी। माना जा रहा है कि दिनेश प्रताप सिंह व प्रवीण लखेरा के नामों उभरकर सामने आए हैं। जबकि कार्यकारिणी में पहुंचने की दौड़ में मुकेश सोनी, आशीष तिवारी, नीता विकास यादव, राजेश्वरी तिवारी के अलावा लखन कुशवाहा का नाम चल रहा है।

गणित: दो महिलाओं को पहुंचना चाहिए?

भाजपा खेंमे से कार्यकारिणी में सुशीला दुबे, प्रियंका साहू व रमा कुशवाहा शामिल थी। सुशीला दुबे व रमा कुशवाहा के बाद कार्यकारिणी में दो महिला सीट खाली हुई है, ऐसे में महिला पार्षदों ने दावा ठोकते हुए गणित बताया कि कार्यकारिणी में दो महिलाओं को पहुंचना चाहिए। ऐसे में नीता विकास यादव व राजेश्वरी तिवारी आगे बढ़ गई। वहीं भाजपा में शामिल हुए पार्षद भी कार्यकारिणी में पहुंचने का दावा ठोक रहे हैं, ऐसे में सामंजस की स्थिती बैठाने के लिए फिलहाल फिर से गणित बैठानी शुरू हो गई है।

भीतरघात की आशंका से पक्ष व विपक्ष दोनों नहीं चाहते वोटिंग

कार्यकारिणी चुनाव वोटिंग तक न पहुंचे इसको लेकर पक्ष व विपक्ष दोनों समीकरण साधने में लगे है। पक्ष व विपक्ष दोनों को इस बात आशंका खटक रही है कि कहीं वोटिंग की स्थिती बनी तो पक्ष व विपक्ष के समीकरण बिगड़ सकते हैं। नामों की घोषणा के बाद जहां भाजपा खेंमे में ऊहापोह की स्थिती बनेगी, वहीं विपक्ष की एकजुटता में भी सेंध लग सकती है। इसी को लेकर भाजपा अंत समय में पांच नामों पर मुहर लगाने के लिए अभी तक स्थिती स्पष्ट नहीं कर सकी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।