DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  झांसी  ›  झांसी में गोलीकांड में घायल व्यापारी की मौत पर भड़का जनाक्रोश
झांसी

झांसी में गोलीकांड में घायल व्यापारी की मौत पर भड़का जनाक्रोश

हिन्दुस्तान टीम,झांसीPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:11 AM
झांसी में गोलीकांड में घायल व्यापारी की मौत पर भड़का जनाक्रोश

झांसी(मऊरानीपुर)।संवाददाता

कोतवाली मऊरानीपुर थानाक्षेत्र में गोलीकांड में घायल व्यापारी की मौत से जनाक्रोश भड़क गया है। लोगों ने बुधवार को नगर के बाजार बंद करा पुलिस व सत्ताधारी विधायक के विरुद्ध नारेबाजी की। आरोपितों को संरक्षण देने का भी आरोप लगाया। कहा, जब तक सभी की गिरफ्तारी व हत्या का मुकदमा दर्ज नहीं होता है, तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा। वहीं, पूरा इलाका छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

मोहल्ला दुबे का चौक स्थित साबुनग्राम निवासी भोले अपने चाचा मुकेश व पिता अशोक अग्रवाल के साथ रविवार की देर रात घर के बाहर बैठे थे। तभी मोहल्ले का ही दीपेश सेठिया कार से आया और सड़क पर खड़ी बाइक हटाने को लेकर गाली-गलौज करने लगा। जिससे विवाद बढ़ गया। तभी तैश में आकर दीपेश व राकेश ने फायिरंग शुरू कर दी। गोली लगने से मुकेश, अशोक और भोले घायल हो गए थे। हालत नाजुक होने पर मुकेश व अशोक को मेडिकल कॉलेज झांसी भेजा गया। ऑपरेशन के बाद भी अशोक की हालत में सुधार न होने पर दिल्ली रेफर किया था। लेकिन मंगलवार देर रात दिल्ली जाते समय रास्ते में मौत हो गई। बुधवार जैसे ही खबर मऊरानीपुर पहुंची तो जन आक्रोश भड़क गया। नगर का सराफा, लाल बाजार, बड़ाबाजार, परमट चौराहा, वीरांगना चौराहा सहित अन्य जगह की दुकानें बंद करा दी गईं। व्यापारी सड़क पर उतर नारेबाजी शुरू कर दी। आरोप लगाया कि पुलिस बाकी बचे आरोपितों की परछाई भी नहीं छू सकी। वह हवा में लाठी चला रही है। वहीं, विधायक पर भी आरोपितों को संरक्षण देने का गंभीर आरोप लगाया। भीड़ देख कोतवाली प्रभारी निरीक्षक शैलेन्द्र सिंह, एलआईयू इंस्पेक्टर विजय शुक्ला भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच लोगों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन वह नहीं माने। बोले-जब तक कार्रवाई नहीं होगी, तब तक शव उठने नहीं दिया जाएगा। कोतवाली प्रभारी ने बताया कि आरोपितों के घर के बाहर भी फोर्स तैनात किया गया। लोगों को समझाने का लगातार प्रयास किया जा रहा है। वहीं, पुलिस ने मामले में आठ लोगों के विरुद्ध नामजद रिपोर्ट दर्ज की थी। चार लोगों को गिरफ्तार भी किया था।

संबंधित खबरें