DA Image
31 अक्तूबर, 2020|9:46|IST

अगली स्टोरी

ट्रेन के सामने कूदकर युवक ने दी जान

default image

जंघई-जौनपुर रेल प्रखंड पर जरौना रेलवे स्टेशन के पास रविवार देर रात गृहकलह से तंग युवक ने ट्रेन के सामने कूद कर जान दे दी। घटना के बाद उसका सिर धड़ से अलग होकर गायब हो गया। सोमवार सुबह मौके पर पहुंची पुलिस ने गायब सिर को खोजने का प्रयास किया लेकिन वह नहीं मिला। आशंका है कि वह ट्रेन के इंजन में फंसकर चला गया। तलाशी के दौरान युवक की पैंट की जेब में सुसाइड नोट मिला। इसमें उसने गृहकलह से तंग आकर खुदकुशी करने की बात लिखी थी। घटना के बाद उसकी पत्नी और दो बच्चों का रोकर बुरा हाल था।जरौना गांव निवासी 35 वर्षीय मनीष कुमार उपाध्याय रविवार रात 12 बजे लोगों को कुछ बताए बिना घर से निकल गया। उसने जरौना स्टेशन के पास गाजीपुर-बांद्रा एक्सप्रेस के सामने कूदकर जान दे दी। रात में परिजनों को घटना की जानकारी नहीं हो सकी। सोमवार सुबह रेल पटरी की तरफ से गुजर रहे लोगों ने सिरकटी लाश देखी। उन्होंने इसकी सूचना उन्होंने पुलिस को दी। सिर न होने के कारण मृतक की शिनाख्त नहीं हो पा रही थी। इस बीच, खोजबीन करते हुए मृतक के परिजन भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने कपड़े के आधार पर शव की शिनाख्त की। शिनाख्त होते ही परिजनों में कोहराम मच गया। तलाशी के दौरान पैंट की जेब से मिले सुसाइड नोट में मनीष कुमार ने गृहकलह से ऊबकर जान देने की बात लिखी थी। परिजनों ने बताया कि मनीष कुमार छत्तीसगढ़ में अपने भाई के साथ रहता था। कुछ दिन पहले ही वह घर लौटा था। उसकी पत्नी ज्योति अपने दो बच्चों गोलू (06) और अंशु (03) के साथ मायके गयी हुई थी। पति की खुदकुशी की खबर मिलने के बाद वह यहां आ गयी। मनीष अपने तीन भाइयों में सबसे छोटा था। कोट : मनीष का सिर नही मिला। आशंका है कि उसका सिर ट्रेन के इंजन में फंसकर कहीं दूर चला गया। उसकी पैंट की जेबसे सुसाइड नोट मिला है। राजेश कुमार, मीरगंज थानाध्यक्ष

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Young man died by jumping in front of train