DA Image
18 जनवरी, 2021|1:59|IST

अगली स्टोरी

जिले में अनवरत बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त

जिले में अनवरत बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त

जिले में पिछले दो दिनों से हो रही रुक रुक के बारिश व गिर रही आकाशीय बिजली ने जमकर तबाही मचायी है। बारिश ने लाखों के कारोबार पर भी असर डाला है। रेस्तराओं में शाम के समय दो दिन से भीड़ गायब दिखायी दी। बारिश के कारण गिरे कच्चे मकान के मलबे में दबने से सरपतहां की एक महिला दबकर मर गयी। चंदवक में आकाशीय बिजली से एक किशोर झुलस गया। गौराबादशाहपुर में बिजली की कड़क से एक युवती अचेत हो गयी। केराकत तहसील आठ मवेशी आकाशीय बिजली से झुलस कर मर गये।

शहरी इलाके के लाइन बाजार, गूलरघाट समेत दर्जन भर मोहल्लों में तार टूटने के कारण 18 घंटे तक बिजली गुल रही। शास्त्री नगर मोहल्ला की सड़क झील में तब्दील हो गयी। लोगों को पानी में घुस कर जाना पड़ा। शहर की सारी नाली जाम रही। पानी गंदा उपर से बहता रहा। नगर पालिका की सफाई की भी कलई बारिश के कारण खुल गयी। बुधवार की रात बारिश शुरू हुई तो सुबह तक होती रही। गुरुवार को भी दिन में करीब डेढ़ बजे बारिश हुई। एक तरीके से देखा जाय तो दो दिनों की बारिश से मौसम तो सुहाना हो गया। लेकिन किसानों के धान की फसल को राहत को मिली लेकिन आम जनजीवन बाधित हो गया।

जलालपुर में पावर हाउस पर गिरी आकाशीय बिजली से पूरी आपूर्ति बाधित हो गयी। लोगों को बिजली न होने का तो दंश झेलना ही पड़ा साथ ही विभाग को हजारों का नुकसान भी उठाना पड़ा। बदलापुर क्षेत्र में पिछले 24 घंटे से रुक रुककर हो रही बारिश से आम जीवन अस्त व्यस्त हो गया। लोग घरों में कैद रहे। किसानों की धान की फसल गिर पड़ी। ऐसे किसान जो अगेती आलू की बुवाई करने की तैयारी कर रहे थे उनके खेतों में लबालब पानी भर गया। हिसं चंदवक के अनुसार क्षेत्र के रामदेवपुर गांव निवासी हर्ष का 10 वर्षीय पुत्र चेतन शर्मा बगीचे में किसी काम से गया था। वही पर आकाशीय बिजली की चपेट में आने से झुलस गया। सूचना पर परिजनों से निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया। हालत गंभीर देख वाराणसी रेफर कर दिया गया। लेवरुआ गांव निवासी गोविन्द पुत्र दुक्खी राम का कच्चा रिहायशी मकान धराशायी हो गया जिसमें परिजन बाल बाल बच गए। उसमें रखा खाद्यान्न ,कपड़ा दबकर नष्ट हो गया। सूचना राजस्व विभाग को दे दी गयी। मुफ्तीगंज में बारिश के कारण बाजार में पूरी तरह पानी लग गया। किसान परेशान थे पहले मक्के की खेती को नुकसान हुआ। रही सही इस बारिशस से उर्दी, अरहर बाजरा की भी फसल जाते हुए दिखायी दे रही है।

गौराबादशाहपुर क्षेत्र के सरसौड़ा गांव में बुधवार की रात बारिश के दौरान आकाशीय बिजली की तेज तड़तड़ाहट की आवाज से फिरतू राम की 22 वर्षीय पुत्री पूनम अचेत हो गयी। परिजन उसे चिकित्सक के पास ले गये। जहां उसका उपचार कराया गया। केराकत क्षेत्र के बेहड़ा गांव के खरकवा पुरवा निवासी अमरनाथ राम की तीन गाये आकाशीय बिजली गिरने से मर गयी। जिसमें से दो गाय के पेट में बच्चा भी था। पशुपालक अमरनाथ ने बताया कि बुधवार की रात चार गायों को घर के सामने महुआ के पेड़ के नीचे बांधे थे। तेज बारिश के साथ गिरी आकाशीय बिजली में चारों चपेट में आ गये। सरपतहां क्षेत्र के मनवल गांव निवासी मुरली की 68 वर्षीय पत्नी शहजा गुरुवार को लगभग दस बजे रिहाशी कच्चा मकान के नीचे बैठी थी बारिश के चलते अचानक मकान का मलबा उनके ऊपर गिर गया और दबकर उनकी मौत हो गई। पुलिस ने लाश पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Uninterrupted rains disrupted life in the district