DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

न्यायपालिका की स्वतंत्रता लोकतंत्र की आधारशिला

न्यायपालिका की स्वतंत्रता लोकतंत्र की आधारशिला

कुटीर संस्थान चक्के में रविवार को स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पंडित अभयजीत दुबे स्मृति सभागार में विधिक शिक्षा लोकतंत्र एवं युवा विषयक संगोष्ठी आयोजित की गयी। मुख्य अतिथि एडवोकेट राकेश पाण्डेय अध्यक्ष हाईकोर्ट बार एसोसिएशन इलाहाबाद ने कहा कि न्यायपालिका की स्वतंत्रता हमारी लोकतंत्र की आधार शिला है। लोकतंत्र को सुदृढ़ एवं मजबूत बनाने तथा उसके विकास में न्यायालय का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। एडवोकेट जेबी सिंह ने भी संबोधित किया। पूर्व संकाय अध्यक्ष विधि संकाय पूविवि पीसी विश्वकर्मा ने कहा साक्षरता शिक्षा दो विधि से है एक औपचारिक शिक्षा दूसरी अनौपचारिक शिक्षा। अध्यक्षता करते हुए चन्द्रेश मिश्र ने कहा आज समाज में भाषा का हनन होता चला जा रहा है।

कुटीर संस्थान के प्रबन्धक डा. अजयेंद्र दुबे ने कहा कि आज शिक्षा का महत्व पहले की अपेक्षा काफी बढ़ गया है। इस मौके पर एडवोकेट बीरेन्द्र नाथ उपाध्याय उपाध्यक्ष बार एसोसिएशन इलाहाबाद, एडवोकेट जेबी सिंह सचिव हाई कोर्ट इलाहाबाद, एडवोकेट सत्य प्रकाश राय राष्ट्रीय मंत्री अधिवक्ता परिषद,कृष्ण पाल समेत अन्य लोग मौजूद रहे। संचालन डॉ. रमेशमणि त्रिपाठी ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The independence of the judiciary is the foundation of democracy