DA Image
14 जुलाई, 2020|6:10|IST

अगली स्टोरी

पं. मालवीय के समकक्ष थे ठा. तिलकधारी सिंह: न्यायमूर्ति

पं. मालवीय के समकक्ष थे ठा. तिलकधारी सिंह: न्यायमूर्ति

तिलकधारी महाविद्यालय में शनिवार को संस्थापक ठाकुर तिलकधारी सिंह की जयंती मनाई गई। सेवानिवृत्त के पश्चात कॉलेज की गतिविधियों में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए भौतिक विभाग के डॉक्टर एसपी सिंह, अंग्रेजी विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ. डीआर सिंह के अलावा गोल्ड मेडिलिस्टों को सम्मानित किया गया। मुख्य अतिथि न्यायमूर्ति प्रदीप कुमार सिंह बघेल ने कहा कि ठाकुर तिलकधारी सिंह पं. मदन मोहन मालवीय के समकालीन थे और शिक्षा के ऐसे सर्जक थे जिनकी सर्जना शक्ति पूरे भारत में परिलक्षित हो रही है। विशिष्ट अतिथि राज्यमंत्री गिरीश चंद यादव ने कहा कि ठाकुर तिलकधारी सिंह के व्यक्तित्व और कृतित्व का जो समावेश है वो शैक्षिक समाज में हर जगह विद्यमान है। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पूर्व कुलपति डा. कीर्ति सिंह ने कहा कि ठाकुर तिलकधारी सिंह के आदर्शों को अपने जीवन में उतारने की आवश्यकता है। आभार जताते हुए प्रबंधक अशोक कुमार सिंह ने ठाकुर तिलकधारी सिंह का जीवन बहुत ही सरल और सहज था। अतिथियों का स्वागत प्राचार्य डा. विनोद कुमार सिंह ने किया। संचालन डा. आर. एन ओझा ने किया। इस अवसर पर प्रोफेसर श्री प्रकाश सिंह, डा. दिनेश सिंह बब्बू एडवोकेट दुष्यंत सिंह, वीरेंद्र प्रताप सिंह, अमर सिंह, गिरीश चंद्र सिंह, पूर्व विधायक सुरेंद्र सिंह, बार एसोसिएशन के अध्यक्ष ब्रजनाथ पाठक, डा.अरुण कुमार सिंह, शिक्षक संघ के अध्यक्ष डा. विजय कुमार सिंह, डा. समर बहादुर सिंह, डा राधेश्याम सिंह, डा. राजीव रतन सिंह, डा. हरिओम त्रिपाठी अन्य मौजूद रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The equivalent of Pt Malaviya was Tha Tilakdhari Singh Justice