DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  जौनपुर  ›  जौनपुर का पूरा शहर छह घंटे तक जाम की चपेट में रहा
जौनपुर

जौनपुर का पूरा शहर छह घंटे तक जाम की चपेट में रहा

हिन्दुस्तान टीम,जौनपुरPublished By: Newswrap
Mon, 14 Jun 2021 05:30 PM
जौनपुर का पूरा शहर छह घंटे तक जाम की चपेट में रहा

फोटो 09, 10

जौनपुर। संवाददाता

जिले के प्रशासनिक अधिकारियों की अनदेखी व कार्यदायी संस्था द्वारा कराए जा रहे विभिन्न कार्यों और वन-वे सिस्टम का अनुपालन न होने से सोमवार को समूचा शहर जबरदस्त जाम की चपेट में रहा। दो दिनों तक आंशिक कफ्र्यू के बाद बाजार खुलने पर लोग सड़क पर आ गये। छह घंटे तक जाम में फंसे लोग हलकान हो उठे। जाम का आलम यह था कि वाजिदपुर तिराहे से भारतीय स्टेट बैंक के प्रबंधक को कचहरी मुख्य शाखा पर पहुंचने में करीब ढ़ाई घंटे का समय लग गया। शहर के भीतर भी जबरदस्त जाम रहा। शहर के बीच आटो व रिक्शा और बाइक सवार रेंगते नजर आये। गलियां पूरी तरह वाहनों से भरी हुई थीं। ट्रिपलिंग बाइक चालक और भीड़ के कारण कोविड का अनुपालन पूरी तरह बेमानी हो गया।

जाम की शुरुआत नईगंज की ओर से हुई। इसके बाद देखते ही देखते शहर जाम होने लगा। कारण की लोग नईगंज में लगे जाम के कारण पालिटेक्निक या अन्य किसी रास्ते से निकल नहीं पा रहे थे। जाम का असर धीरे धीरे पालिटेक्निक, वाजिदपुर, लाइन बाजार, ओलन्दगंज, चहारसू चौराहा, सद्भावना पुल, मछलीशहर पड़ाव, सिपाह, पचहटिया समेत अन्य स्थानों पर दिखने लगा। पचहटिया में तो सड़क इस कदर हो गयी है कि चलना दुश्वार हो गया है।

गढ्ढा युक्त सड़क में पानी भरा है। जिससे लोगों को पता भी नहीं चल रहा है। वही पर सीवर प्लान्ट का काम भी चल रहा है। इसके चलते सड़कें काफी जर्जर हो चुकी है। शहर में ट्रैफिक नियंत्रित करने के लिए लगाए गए होमगार्ड पूरी तरह से फेल नजर आए। जाम में लोग एक इंच भी खिसक नहीं पा रहे थे। दोपहर में तीखी धूप व उपर से जाम से लोग बिलबिला उठे। कार में सवार लोग एसी तो चलाए थे लेकिन उनकी भी गाड़ी गर्मी व जाम में फंसे रहने के कारण हीट होकर बंद हो गयी। वाजिदपुर के पास किसी तरह से उस वाहन को स्र्टाट किया गया।

जाम लगने पर दिखी खामियां

जौनपुर। जब शहर में जाम लगा तो फंसे लोगों को देखकर हंसी भी आ रही थी कि एक बाइक पर चार चार लोगों को बैठाकर सफर कर रहे हैं। पुलिस वालों ने भी कुछ नहीं बोला। कोविड नियमों की पूरी तरह से धज्जी उड़ती नजर आयी। काफी संख्या में लोग बगैर मास्क के भीड़ में दिखायी दिए।

पूरे जाम के दौरान नहीं दिखी पुलिस

जौनपुर। जाम के दौरान पुलिस नहीं दिखायी दे रही थी। होमगार्ड ही चिल्ला रहे थे। लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं था। सालों साल बीत गए लेकिन जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन आज तक शहर को जाम से निजात नहीं दिला पाया।

जाम में घंटों फंसे रहे अधिवक्ता

मछलीशहर। तहसील के मुख्यद्वार के सामने सोमवार को भीषण जाम लग गया। जिसके कारण घंटों अधिवक्ता, वादकारी व आम नागरिक फंसे रहे।

मछलीशहर सब्जी मंडी से मड़ियाहंू चौराहे पर जाने वाली तहसील के सामने से होकर गुजरने वाली सड़क पर भीषण जाम लगा रहा। जाम की चपेट में पूरा मछलीशहर कस्बा रहा। तहसील कार्यालय होने के बाद भी मौके पर न ही कोई पुलिस कर्मी पहुंचा न कोई अधिकारी, घंटो राहगीर और मरीज, बच्चे आदि परेशान रहे। क्योंकि इसी मार्ग पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र व स्टेट बैंक, इलाहाबाद बैंक,पंजाब नेशनल बैंक, कई कार्यालय,शिक्षण संस्थान स्थित हैं। तीन घण्टे से अधिक समय तक तहसील का मुख्य गेट जाम रहा।

संबंधित खबरें