DA Image
19 जनवरी, 2021|4:18|IST

अगली स्टोरी

फास्टैग लगवाले की अवधि बढ़ने से राहत

फास्टैग लगवाले की अवधि बढ़ने से राहत

जौनपुर। जौनपुर-रायबरेली राजमार्ग स्थित कुंवरपुर टोल प्लाजा पर गुरुवार को फास्टैग लगवाने के लिए वाहन स्वामियों की भारी भीड़ हो गयी। इस दौरान तकनीकी समस्या के कारण घंटेभर में काम ठप रहा। उधर, फास्टैग की अंतिम तिथि 15 फरवरी तक बढ़ाये जाने की सूचना पर वाहन स्वामियों ने राहत की सांस ली।

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार एक जनवरी से केंद्र सरकार ने टोल प्लाजा पर सभी छह लेन फास्टैग से जोड़ने की तैयारी की थी। कुंवरपुर स्थित टोल प्लाजा पर वाहन स्वामी गुरुवार सुबह से फास्टैग रीचार्ज कराने में जुट गये। तकनीक समस्या से कुछ वाहनों को टोल से गुजरने में 10 से 15 मिनट का वक्त लग जा रहा था। नतीजा : पीछे वाहनों की कतार लग जा रही थी। कुछ वाहनों पर लगे फास्टैग कैमरे सही तरीके से स्कैन नहीं कर पाये। इसके कारण फास्टैग अकाउंट में रुपये होने के बावजूद वाहनस्वामियों को नकद देना पड़ा। इसके कारण काउंटर पर बैठे कर्मचारियों-वाहन स्वामियों में बहस हो गयी। कुछ वाहनों के फास्टैग से जुड़े अकाउंट में रुपये नहीं होने से भी टोल पर लगा बैरियर नहीं उठा। इससे वाहन स्वामी व कर्मचारियों में नोकझोक भी होती रही। एक जनवरी से फास्टैग की अनिवार्यता के शासनादेश के बाद 10 प्रतिशत वृद्धि हुई है। टोल प्लाजा पर अभी फास्ट टैग के चारों लेन पर वाहन चालकों को कभी-कभी नेटवर्क डाउन होने से चिप स्कैनिंग में देरी हुई। दिनभर में लगभग 200 वाहन प्रभावित रहे।