DA Image
2 दिसंबर, 2020|9:37|IST

अगली स्टोरी

धार्मिक मान्यता : भगवान जगन्नाथ को चढ़ाया गया परवल का जूस

15 दिन बीमार रहने के बाद चिकित्सक की सलाह दिया गया परवल का जूस

भगवान जगन्नाथ रथयात्रा महोत्सव में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार भगवान जगन्नाथ का शुक्रवार को डाक्टरों ने  चेकअप किया। इसके बाद उन्हें परवल का जूस देने की सलाह दी गई। भगवान को परवल का जूस अर्पित करके उसे श्रद्धालुओं में प्रसाद स्वरूप बांटा गया।  
मान्यताओं के अनुसार भगवान जगन्नाथ आषाढ़ मास की पूर्णिमा 28 जून को बीमार हो गए थे। तभी से उनके रासमंडल स्थित मंदिर का कपाट बन्द कर दिया गया था। इस बीच बीमार पड़े भगवान जगन्नाथ को सिर्फ अजवाइन, सोंठ, काली मिर्च, तुलसी, लौंग आदि से बना काढ़ा दिया जा रहा था। आचार्य डा.रजनीकान्त द्विवेदी ने बताया धर्म शास्त्रों के अनुसार भगवान जगन्नाथ का एक भक्त रामदास काफी बीमार हो गया था। उसने भगवान से कहा कि हम आपके इतने भक्त हैं फिर भी इतने दिन से बीमार हैं। भगवान ने कहा कि हर किसी को उसका भोग को तो भोगना ही पड़ता है। यही कहकर भगवान जगन्नाथ ने उसकी बीमारी अपने ऊपर लेकर बीमार हो गए। इसकी एक कथा यह भी है कि जून की भीषण गर्मी में भगवान जगन्नाथ व्याकुल हो उठे तो उनके भक्तों ने उन्हें शीतलता पहुंचाने के लिए 1008 घड़ा पानी से नहला दिया। जिससे उन्हें सर्दी-जुकाम हो गया। 
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Lord Jagannaths doctor did checkup