DA Image
27 अक्तूबर, 2020|2:50|IST

अगली स्टोरी

जौनपुर में मुठभेड़ के बाद अपहृत बालक बरामद

जौनपुर में मुठभेड़ के बाद अपहृत बालक बरामद

खुटहन थानाक्षेत्र के तिघरा गांव से रविवार को दिनदहाड़े अगवा किए गए बच्चे को पुलिस ने 12 घंटे के भीतर बदमाशों से मुठभेड़ के बाद बरामद कर लिया। घटना में शामिल पांच बदमाशों को गिरफ्तार करते हुए उनके पास से असलहा, मोबाइल, बाइक व नगदी बरामद किया है।

तिघरा निवासी प्रवेश अग्रहरि ने ने रविवार को पुलिस को बच्चे के अपहरण की सूचना दी। बताया कि उनके 11 वर्षीय बेटे प्रवेश अग्रहरी को बदमाशों ने गुटखा लेने के बहाने भेज कर अगवा कर लिया है। अपहरण की सूचना पर एसपी ने 10 टीमों का गठन किया। प्रभारी निरीक्षक खुटहन विजय शंकर सिंह, खेतासराय राजेश यादव, दरोगा विवेक कुमार तिवारी, चौकी प्रभारी सरायमोहिउद्दीनपुर, स्वाट टीम जौनपुर व र्सिवलांस टीम जौनपुर की मदद से मुठभेड़ के बाद अपहृत बालक पुत्र प्रवेश अग्रहरि को मात्र 12 घण्टे के अन्दर बरामद कर लिया गया।

घटना का खुलासा करते हुए सोमवार को एसपी ने बताया कि अभियुक्त दीपक गुप्ता पुत्र प्रेम शंकर गुप्ता जो आर्थिक स्थिति को मजबूत करने के लिए लगभग एक माह से अपने गाव के रोहित गुप्ता के साथ अपहरण की घटना के संबंध मे योजना बना रहा था। दीपक गुप्ता ने इस योजना के तहत प्रवेश अग्रहरि को चिन्हित किया और अपने मित्र खिचड़ू बिन्द पुत्र राजधारी बिन्द निवासी ग्राम जफटापुर तथा अमन यादव पुत्र रामबदन यादव निवासी पुराने थाने के पीछे कस्बा व थाना खेतासराय व रोहित गुप्ता पुत्र शिव प्रसाद गुप्ता निवासी ग्राम तिघरा व मकान मालिक सुरेश गौतम पुत्र सिताराम गौतम निवासी ग्राम जगबन्दनपुर के साथ मिलकर प्रवेश अग्रहरि के पुत्र के अपहरण की योजना बनाई। मौके पर खिचड़ू बिन्द और अमन यादव ने जाकर गुटखा मंगाने के बहान बच्चे को उठाकर ले गये थे।

पूछताछ के दौरान बदमाशों ने बताया कि वे अपहृत बालक के लिये परिजनों से फिरौती की मांग करने वाले थे। सभी के पास से तीन कट्टा व तीन जिन्दा कारतूस व दो खोखा कारतूस, तीन बाइक, तीन मोबाइल व प्लास्टिक सफेद टेप का बण्डल आदि बरामद हुआ है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kidnapped boy found after encounter in Jaunpur