DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › हरदोई › फर्जी शिक्षकों की जांच के लिए वीडियो कान्फ्रेंसिंग आज
हरदोई

फर्जी शिक्षकों की जांच के लिए वीडियो कान्फ्रेंसिंग आज

हिन्दुस्तान टीम,हरदोईPublished By: Newswrap
Tue, 30 Jun 2020 11:20 PM
फर्जी शिक्षकों की जांच के लिए वीडियो कान्फ्रेंसिंग आज

बेसिक शिक्षा विभाग के अन्तर्गत विद्यालयों में अनियमित, नियम विरुद्ध, फर्जी रुप से की गई नियुक्तियों की जांच की समीक्षा बैठक वीडियों कान्फे्रसिंग के माध्यम से जानकारी ली जाएगी। इस सम्बन्ध में अपर मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश शासन ने डीएम को पत्र जारी करके ब्यौरा शासन को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं।

फर्जी अध्यापकों के प्रकरण सम्बन्ध में जनपद स्तर पर की गई कार्यवाही की प्रगति वीडियों कान्फ्रेन्स के माध्यम से की जाएगी। इनमें मुख्य बिन्दुओं में एसआईटी की जांच में फर्जी शिक्षकों पर की कार्य वाही में क्या प्रगति रही ? एसटीएफ जांच में पाए गए शिक्षकों के विरुद्ध कार्रवाई की क्या प्रगति चल रही है। कस्तूरबाा गांधी बालिका विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक, शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के अभिलेख एवं निवास का सत्यापन की प्रगति आदि की प्रगति रिपोर्ट मांगी गई है। मानव संपदा पोर्टल पर शिक्षकों एवं शिक्षा मित्रों के सम्बन्ध में ऑनलाइन भरे हुए विवरण एवं त्रुटियों के निवारण की प्रगति रिपोर्ट पर चर्चा की जाएगी। समीक्षा बैठक में जिला स्तरीय जंाच समिति,मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक, शिक्षा निदेशक बेसिक, बीएसए आदि उपस्थित रहेंगे।

अनामिका शुक्ला केस के बाद फर्जीबाड़े की परतें खुलीं तो शासन प्रशासन के होश उड़ गए हैं। हरदोई के बीएसए कार्यालय के प्रधान लिपिक रामनाथ को एसटीएफ जेल भेज चुकी है। वहीं इस गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में जानकारी जुटा रही है। यहां कस्तूरबा गांधी विद्यालय में नौकरी करने वाली पार्टटाईम टीचर अंजली के अभिलेख जांच में जाली निकले हैं। उसके खिलाफ बेहन्दर थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है। वहीं एसआईटी की जांच में आगरा विश्वविद्यालय की फर्जी डिग्री से 16 शिक्षकों के नौकरी पाने का खुलासा था, जिनमें से 5 के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हुई थी।

संबंधित खबरें