DA Image
26 मई, 2020|3:48|IST

अगली स्टोरी

हे खग हे मृग हे मधुकर श्रेणी, तुम देखी सीता मृगनयनी

default image

फोटो 17: श्री गोविंद लीला संस्थान के कलाकारों ने रामलीला का किया मंचनहरदोई। रविवार को रामलीला मंचन में सीता हरण का मंचन किया गया। रावण ब्राहम्ण भेष में आकर सीता माता से भिक्षा मांगता है और अपनी चालों में फंसाकर उनका हरण कर लेता है। विचलित राम और लक्ष्मण सीता को खोजने निकलते हैं, रास्ते में आने वाले वृक्ष, लताओं, पुष्पों और पशु पक्षियों से सीता का पता पूछते हैं। इसी बीच उन्हे रास्ते में घायल जटायु पड़े मिलते हैं। राम को सीता के अपहरण का समाचार बता गिद्धराज जटायु अपने प्राणों को त्याग देते हैं। इसके बाद किष्किंधा में पहुंच राम व लक्ष्मण की सुग्रीव, हनुमान से मुलाकात होती है। सुग्रीव और राम की मित्रता होती है वो प्रभु राम को किष्किंधा की परिस्थितियों की जानकारी देते हुए मदद की मांग करते हैं। ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्ण्18 जोड़ों की एक मार्च को दहेज रहित होगी शादीफोटो 8: अखिल श्रीरामजानकी मंदिर में भारतीय सन्मानी वैश्य समाज के पदाधिकारी तृतीय दहेज रहित विवाह में भाग लेते हुएहरदोई। रविवार को अखिल भारतीय सन्मानी वैश्य समाज के तत्वावधान में श्री रामजानकी मंदिर प्रांगण में तृतीय दहेज रहित विवाह समारोह का परिचय सम्मेलन वेद प्रकाश गुप्ता की अध्यक्षता में हुआ। इस सम्मेलन में 100-100 लड़के लड़कियों क ा परिचय आपस में कराया गया। जिसमें से 18 जोड़ों ने एक दूसरे से शादी के लिए राजी हुए। जिनका विवाह एक मार्च का राम जानकी प्रांगण में करा कर उपहार देकर विदाई की जाएगी। मनोज गुप्ता, हरिश्याम गुप्ता, डॉ.राम प्रकाश गुप्ता, सूरज गुप्ता, अतुल गुप्ता, नीरज गुप्ता, श्री प्रकाश गुप्ता, महेश गुप्ता, संजय गुप्ता आदि उपथित रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:O Khag O deer O Madhukar Range You have seen Sita Mriganayani