DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  हरदोई  ›  नाले चोक: तेज बारिश हुई तो डूब जाएंगे दर्जनों मोहल्ले
हरदोई

नाले चोक: तेज बारिश हुई तो डूब जाएंगे दर्जनों मोहल्ले

हिन्दुस्तान टीम,हरदोईPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 05:50 AM
हरदोई। कार्यालय संवाददाता
 कोरोना काल में नाला सफाई की मुहिम भी देरी का शिकार...
1 / 2हरदोई। कार्यालय संवाददाता कोरोना काल में नाला सफाई की मुहिम भी देरी का शिकार...
हरदोई। कार्यालय संवाददाता
 कोरोना काल में नाला सफाई की मुहिम भी देरी का शिकार...
2 / 2हरदोई। कार्यालय संवाददाता कोरोना काल में नाला सफाई की मुहिम भी देरी का शिकार...

हरदोई। कार्यालय संवाददाता

कोरोना काल में नाला सफाई की मुहिम भी देरी का शिकार हो गई है। मानसून आ चुका है लेकिन तमाम नालों की सफाई अभी भी अधूरी है। जिला मुख्यालय पर सरकारी रिकार्ड में 52 नाले हैं। अब तक 40 नालों की ही सफाई पूरी हो सकी है। ऐसे में बारिश हुई तो आशानगर, प्रगतिनगर, सुभाष नगर, नुमाइशपुरवा समेत कई मोहल्ले उफनाएंगे। अधिशासी अधिकारी का कहना है कि युद्धस्तर से सफाई करा रहे हैं। चार बड़े नाले में से दो साफ हो चुके हैं। आशानगर समेत दो नालों में सफाई चल रही है। 30 जून तक सभी नालों की सफाई करा दी जाएगी। शहर में कहीं पर भी जलभराव नहीं होने देंगे।

कछौना कस्बे में इन दिनों जलभराव की समस्या आम बात है। जल निकासी का उचित प्रबंध न होने से हल्की सी बारिश आफत का सबब बनी है। ऐसे में जलभरव की सबसे अधिक समस्या सीएचसी के अलावा गौसगंज रोड पर बनी हुई है। गंदगी के अंबार से यहां के जर्जर नाले चोक पड़े हैं।

बरसात के इस मौसम में कस्बे के गौसगंज रोड पर जलभराव राहगीरों के लिए मुसीबत बना है। यहां सड़क के दोनों ओर बने नाले काफी जर्जर हो चुके है। नालों में भरा कचरा एवं गंदा पानी मच्छरों को दावत दे रहा है। कस्बे के मुख्य चौराहे से गौसगंज जाने वाले मार्ग पर विशालकाय गड्ढों से सड़क काफी निचले हिस्से में पहुंच गयी है। इस मार्ग के 700 मीटर हिस्से को बनाने में पीडब्ल्यूडी विभाग के जिम्मेदार भी ध्यान नही दे रहे हैं। इस स्थिति में सड़क के दोनों ओर बने जर्जर नाले शोपीस बने हुए है। इस मार्ग के एक तरफ बना नाला तो कई स्थानों पर टूट कर अपना अस्तित्व ही खो चुका है। शेष हिस्से में पटी पड़ी गंदगी संक्रामक रोगों को दावत देती नजर आ रही है।

ईओ रेणुका यादव ने बताया नालों की सफाई रोस्टर के तहत कराई जा रही है। गौसगंज मार्ग का कुछ हिस्सा काफी जर्जर हो चुका है। पीडब्ल्यूडी के अलावा जिले के उच्चाधिकारियों को इस मार्ग के निर्माण को पत्र भेजा गया है। सड़क की मरम्मत के बाद उसकी ऊंचाई के आधार पर नालों की मरम्मत करायी जाएगी।

कस्बे में गौसगंज रोड के निवासी अनिल सिंह ने बताया कि वर्ष 2010 में यहां पर नालों का निर्माण हुआ था। जिसके कुछ समय बाद ही गुणवत्ता विहीन बना यह नाला कई जगह जर्जर होकर धराशायी हो गया था। सड़क भी काफी जर्जर हो चुकी है। इससे जलभराव की समस्या बनी हुई है।

गौसगंज मार्ग पर वार्ड नंबर 06 के निवासी सुरेश कुमार ने बताया कि यहां जल निकासी का समुचित प्रबंध एवं नालों की सफाई न होने के चलते जलभराव की समस्या बनी है। सड़क निचले हिस्से में होने से नालों का पानी जर्जर सड़क के गड्ढों में भर रहा है। इससे मोहल्ले के लोग काफी परेशान है।

मुख्य नाला निर्माण कार्य की धीमी रफ्तार

मल्लावां। नगर पालिका क्षेत्र में मुख्य नाले का निर्माण कार्य चल रहा है। जिसका कार्य धीमी गति से होने से लोगों को शंका है कि बरसात से पूर्व अगर इसका निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा तो जलभराव की समस्या से छुटकारा मिल सकता है। अन्यथा फिर पिछले वर्ष की भांति इस बार भी जलभराव की समस्या से जूझना पड़ेगा। ईओ मुकेश कुमार निगम ने बताया कस्बे में 33 नाले हैं। जिनकी सफाई बराबर चलती रहती है। बरसात के मौसम को देखते हुए सभी नालों की सफाई कराई जा रही है। कुछ नाला बचे हैं। उनका सफाई अभियान चलाया जा रहा है।

नालों के ऊपर खड़ी झाड़ियां, बरसात में मुसीबत

पाली। कस्बे के पटियानीम मोहल्ले में काली मंदिर से सामुदायिक शौचालय की तरफ जाने वाली सड़क के किनारे बना नाला और मोहल्ला सुलह सरांय में विष्णु त्रिवेदी के मकान के पास से नदी तक बने नाले की सफाई नही हुई। सफाई न होने से नाला पूरी तरफ से गंदगी से भरा पड़ा मिला। नाला के ऊपर उगी बड़ी बड़ी झाड़ियां नाला सफाई की दास्तान बता रही है। इसी मोहल्ले में किशोरी लाला के यहां पर से नदी की तरफ गए नाले की सफाई नही कराई गई। मोहल्ला बिरहाना में वाल्मीकि लोगों के घरों के पास से निकले नाले की भी दिखी। नगर के अन्य नाला का भी यही हा बताया जा रहा है। ईओ अवनीश शुक्ला ने बताया कि बरसात शुरू होने से पहले कुछ नालों की सफाई कराई गई थी। बारिश की बजह से नालों में फिर से सिल्ट व गंदगी भर गई है। सफाई नायक को सफाई कराने के लिए बताया गया है। सभी नालों की सफाई जल्द कराई जाएगी।

संबंधित खबरें