DA Image
12 अगस्त, 2020|12:11|IST

अगली स्टोरी

आधार का सत्यापन होने से फर्जी बच्चे भी उजागर होंगे

default image

बेसिक शिक्षा विभाग में पकडे़ गए फर्जीवाड़े के बाद अब परिषदीय स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के नामाकंन का भी सत्यापन होगा। इसकी जिम्मेदारी खंड विकास अधिकारियों को दी गई है। आधार सत्यापन के बाद फर्जी बच्चे उजागर हो जाएंगे।

बेसिक शिक्षा विभा में कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय के शिक्षकों, अनुदेशकों, शिक्षा मित्र, सहायक अध्यापकों के बाद अब विभाग में पढ़ने वाले बच्चों के आधार नामाकंन की प्रक्रिया शुरू कराई गई है। आशंका जताई जा रही है कि अभिभावक परिषदीय स्कूलों के अलावा अन्य स्कूलों से भी सरकारी योजनाओं का लाभ ले रहे हैं। इसके अलावा कुछ शिक्षकों द्वारा फर्जी बच्चों की संख्या बढाने का भी कार्य करने का अंदेशा है। बच्चों के नामांकन आधार से सत्यापित होने के बाद सही तस्वीर सामने आएगी। इसके अलावा मध्यान्ह भोजन में भी हो रही अनियमितता को उजागर करने में आधार का सत्यापन सहायक होगा।

बीएसए हेमंतराव ने बताया कि विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र व छात्राओं का भी आधार सत्यापित कराया जायगा। इससे पता चल जाएगा कि कहीं कोई बच्चा दोहरा लाभ तो नहीं ले रहा हैं। इसके बाद शासन के निर्देशों के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Fake children will also be exposed due to Aadhaar verification