DA Image
28 नवंबर, 2020|10:57|IST

अगली स्टोरी

कूड़ा निस्तारण प्लांट लगने में हो रही देरी

default image

सरकारी योजनाओं को साकार करने में लेटलतीफी का ग्रहण शहर में कूड़े से खाद बनाने की योजना पर भी लगा हुआ है। आज कल करते-करते आठ साल बीते चुके हैं, लेकिन प्रगति शून्य है। कागजी घोड़े दौड़ रहे हैं लेकिन धरातल पर कोई काम होता नजर नहीं आ रहा है।

नगर पालिका परिषद क्षेत्र के 26 वार्डों में करीब एक लाख 30 हजार लोग रहते हैं। वहीं आसपास की सीमाओं से सटे मोहल्ला आजादनगर, कन्हईपुरवा, नानकगंज झाला, अनंग बेहटा, चांद बेहटा आदि क्षेत्र में करीब पौने दो लाख की आबादी रह रही है। यहां घरेलू व व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में रोजाना दर्जनों ट्राली कूड़ा निकलता है। नगर पालिका प्रशासन के अनुसार वर्ष 2012 में कूड़ा निस्तारण प्लांट लगाने की योजना लागू हुई थी।

इस वक्त आए शासन के निर्देशानुसार खोजबीन के बाद जिला मुख्यालय से करीब 12 किमी दूर नीर गांव में दो हेक्टेयर जमीन अधिग्रहीत की गई। सीतापुर रोड पर नीर मंगलीपुरवा रोड किनारे यह उपयुक्त स्थल है। कुछ वर्ष पहले स्वच्छ भारत मिशन के तहत डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करने के लिए लिखापढ़ी हो चुकी है। इसके बाद आगे की प्रक्रिया अटकी पड़ी है। जनप्रतिनिधियों की अनदेखी के कारण विभागीय अधिकारी भी अब इस ओर रुचि नहीं दिखा रहे हैं। ऐसे में कूड़े से खाद बनना कब से शुरू होगा, इसका जवाब कोई अधिकारी नहीं दे पा रहा है?

मौजूदा समय में डंपिंग स्थल के साथ ही इधर-उधर हाईवे के किनारे भी कूड़ा फेंका जा रहा है। बावन रोड किनारे खाईं में तो अक्सर कूड़े के ढेर नजर आते हैं। इन्हें जलाकर इनका आकार कम करने काम मौका मिलते ही सफाई कर्मचारी कर देते हैं। इससे उठने वाला धुंआ वायु मण्डल को प्रदूषित करता है। वहीं सीतापुर रोड, लखनऊ रोड पर भी कई जगहों पर कूड़े के ढेर जमा किए जाते हैं। खाली प्लाटों में भी कूड़ा फेंका जा रहा है।

अधिशासी अधिकारी नगर पालिका रविशंकर शुक्ला का कहना है कि कूड़े से खाद बनाने की योजना को साकार कराने के लिए प्रयास चल रहे हैं। स्थानीय स्तर पर सारी तैयारियां पूरी हैं। कार्यदाई संस्था के तौर पर सीएण्डडीएस का चयन शासन स्तर से हो गया है। उम्मीद है कि 15 नवंबर तक डीपीआर बनाकर कार्यदाई संस्था शासन स्तर पर पेश कर देगी। इसके बाद जल्द इस योजना को लेकर काम शुरू हो जाएगा। उन्होंने कहा कि बजट की कोई समस्या नहीं है। 3 करोड़ रुपये की धनराशि नगर पालिका के पास शासन स्तर से उपलब्ध कराई जा चुकी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Delay in setting up waste disposal plant