DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  हरदोई  ›  बाजारों के खुलने से उमड़ रही भीड़
हरदोई

बाजारों के खुलने से उमड़ रही भीड़

हिन्दुस्तान टीम,हरदोईPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 05:41 AM
हरदोई। संवाददाता
 दूसरी लहर के बाद अनलॉक की प्रक्रिया धीरे-धीरे शुरू होते ही अब...
1 / 2हरदोई। संवाददाता दूसरी लहर के बाद अनलॉक की प्रक्रिया धीरे-धीरे शुरू होते ही अब...
हरदोई। संवाददाता
 दूसरी लहर के बाद अनलॉक की प्रक्रिया धीरे-धीरे शुरू होते ही अब...
2 / 2हरदोई। संवाददाता दूसरी लहर के बाद अनलॉक की प्रक्रिया धीरे-धीरे शुरू होते ही अब...

हरदोई। संवाददाता

दूसरी लहर के बाद अनलॉक की प्रक्रिया धीरे-धीरे शुरू होते ही अब बाजार पूरी तरह से खुल चुके हैं। ग्राहकों की भीड़ भी बाजारों में उमड़ रही है। जिससे ग्राहकों के चेहरों पर मुस्कान भी दिख रही है। दुकानदार बताते हैं कि लॉकडाउन में त्योहार के समय मंगाया गया सामान रखा हुआ था। वही सामान की बिक्री भी की जा रही है और नया आर्डर भी दिया जा रहा है। रेडिमेड कपड़ा, साड़ी व्यापारी, बर्तन, किराना, कास्मेटिक दुकानदार समेत अन्य ने बताया कि बाजारों में अब पहले की तरह पहुंच रहे हैं। इसके अलावा रेलवे स्टेशन पर टिकट काउंटर के अलावा रिवर्जेशन खिड़की के बाहर लोगों की भीड़ लग रही। इस बीच हिन्दुस्तान की पड़ताल के दौरान बाजारों में दुकानदार और ग्राहक के प्रति गम्भीर नही दिखे। जिसकी एक रिपोर्ट

जिले में संक्रमण की स्थिति पर नजर डाले तो अब आंकड़े पहले से बेहतर नजर आ रहा है। जबकि दूसरें राज्य में भी कोरोना संक्रमण में पर काफी हद का स्थिति काबू में हैं। जिसके चलते रिजर्वेशन और टिकट काउंटर पर बुधवार को लाइन में सोशल डिस्टेसिंग की धज्जियां उड़ती रहीं।

रेलवेगंज बाजार में रेडीमेट कपड़ा से लेकर घरेलू सामान की काफी दुकानें हैं। दुकानदारों ने बताया कि इस समय ग्राहकों दुकानों पर पहुंच कर खरीददारी कर रहे हैं। बताया कि अभी पिछला की सामान बेंच रहे हैं। इसके अलावा फल, सब्जी के भी ठेले लगे रहे।

भीषण गर्मी के लोग कार में एसी चलाकर बाजार में सामान की खरीददारी करने पहुंच रहे हैं। जिससे फुटपाथ पर अतिक्रमण होने से घंटों की स्थिति भी बनी रहती है। इसमें फंस राहगीर व साइकिल समेत बाइक सवार परेशान हुए। दुकानदारों के मुताबिक सुबह सात से नौ बजे तक दुकानें खुलने से राहत मिलेगी।

नुमाइश चौराहा पर चाय की दुकान लगाने वाल दधिवल कहते हैं कि लॉकडाउन के दौरान रोजी रोटी का कमाई का रजिया बंद हो गया था। जिससे काफी दिक्कत हुई है। लेकिन अब दुकानें खुलने से राहत मिलेगी। इसी तरह मौमज लगाने वाले दुकानें ने बताया कि अब दुकानदारी से राहत है।

मोची दिनेश, चाट का ठेला लगाने वाले रामशंकर ने बताया कि दुकानदारी कर परिवार का पालन-पोषण अब ठीक से होने लगा है। प्रतिदिन 300-350 की बचत हो जाती है। इस तरह फल विक्रेता विक्रम ने बताया कि खरबूजा, तरबूज की बिक्री भी ठीक हो रही है।

संबंधित खबरें