DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जन्माष्टमी पर हुई तकरार को लेकर दो शैतानों की दरिंदगी में था तीसरे कालू का खेल

एक मासूम बच्ची की रेप के बाद हत्या तथा मासूम बच्चे की गर्दन काटकर हत्या के प्रयास में घर में रहने वाले दो नौकरों के दीमाग के पीछे तीसरे कालू का हाथ था। जिसने जन्माष्टमी पर बच्ची के पापा से हुई तकरार के बाद उसकी हत्या करने के लिए आरोपियों के शैतानी दीमाग पर मानसिक रूप से कब्जा कर लिया था। पुलिस ने गैंगरेप तथा हत्याकांड में षड्यंत्र रचाने वाले तीसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है।घटना के तीन दिन बाद हिन्दुस्तान ने खुलासा किया था कि बच्ची की रेप के बाद हत्या तथा बच्चे की हत्या के प्रयास के बीच तीसरा कौन था। जिसको लेकर पुलिस ने दूर दूर तक कोई खुलासा उस समय तक नहीं किया था जबकि दूसरे आरोपी की धरपकड़ के लिए पुलिस लगी हुई थी। हालांकि हिन्दुस्तान ने नर्सिंग होम में भर्ती मासूम नितिन के बिना आवाज निकले हाथ के इशारे पर यह संदेह किया था कि बच्चा तीसरे व्यक्ति के नीचे खड़े होने के कारण ही दूसरे की छत पर दीवार कूदकर नीचे पहुंचा था। उसी क्रम में पुलिस ने पकड़े गए दूसरे आरोपी से पूछताछ में तीसरे आरोपी कलुवा को गिरफ्तार कर लिया है। एएसपी राम मोहन सिंह ने बताया कि अंकुर उर्फ तेली तथा सोनू उर्फ पव्वा उर्फ बीडी सोनू यादव के यहां नौकरी कर रहे थे। लेकिन दोनों का शैतानी दीमाग था। जिसमें पड़ोस में रहने वाले अमरजीत ने उनकी शैतानी दीमाग को पहचान लिया था। बताया कि अमरजीत उर्फ कलुवा की जन्माष्टमी के दिन सोनू यादव से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी। इसके अलावा वह सोनू से पूर्व से ही रंजिश रखता था। जन्माष्टमी पर हुई कहासुनी को लेकर ही कलुवा ने दोनों पर हाथ रख लिया। जिसके बाद उसने दोनों के शैतानी दीमाग पर सोनू की हत्या का भूत सवार कर दिया था। एएसपी ने बताया कि वह दोनों को बार बार सोनू यादव की हत्या के लिए उकसा रहा था। जिसमें दोनों को तमंचा देने तक की भी बाते कर ली गई थी। जिसमें पांच सितंबर को दोनों घर पर अकेले सोनू की हत्या के इरादे से गए थे। लेकिन सोनू तब तक जंगल से घर नहीं आया था। बताया कि जब दोनों घर पहुंचे तो वहां पर जेवरात को देखकर इरादा बदल गया और लूट शुरू कर दी। जिस दौरान सोनू की बेटी मौके पर आ गई। जिसकी उन दोनों ने गला घौंटकर हत्या कर दी थी तथा बेटे नितिन की भी हत्या के इरादे से चाकू से गर्दन काट दी थी। इसके बाद बेटी के शव के शव को बोरे में बंद करके भूस में छिपा दिया था तथा बेटे के शव को छिपाने के लिए बोरा ला रहे थे। लेकिन इस दौरान बेड पर पड़ा नितिन गायब हो गया था। जिसके बाद वह वहां से जेवरात लेकर भाग गया।बहन के पास छोड़ गया था जेवरात--एएसपी ने बताया कि घर से जेवरात ले गया सोनू पैसे और जेवरात अपनी बहन को दे गया था। जिसके बाद वह शहर से फरार हो गया था। उन्होंने बताया कि जेवरात बरामद कर लिए गए हैं। जिनको परिजनों को दिखा दिया गया है। परिजनों ने अपने घर से गए जेवरात पहचान लिए है।हत्याकांड के बाद घर में रह रहा था तीसरा--सोनू यादव ने बताया कि जो तीसरा आरोपी पकड़ा गया है वह पहले से ही उनके परिवार से रंजिश रखता है। सोनू ने बताया कि हत्याकांड के बाद आरोपी अमरजीत कही भागा नहीं था बल्कि वह अपने ही घर रह रहा था। लेकिन इतने बड़े हादसे के बाद भी वह एक बार भी उनके घर नहीं आया था। जबकि हर आदमी इस दुख में उनके घर आ रहा था।कहां गए 80 हजार रुपये---पुलिस ने आरोपी से जेवरात बरामद कर लिए है लेकिन लूटे गए 80 हजार बरामद नहीं हो पाए हैं। सोनू यादव का कहना है कि हत्याकांड तथा रेप के दौरान घर से 80 हजार रुपये तथा लाखों के जेवरात लुट गए थे। उसने बताया कि अभी 80 हजार रुपये बरामद नहीं किए गए है जबकि पूरा जेवरात भी नहीं मिल पाया है। ------------------------------------जन्माष्टमी पर होने वाले कार्यक्रम में भगवान भोले बनता था शैतानहापुड़। वरिष्ठ संवाददाताअसली जिंदगी में शैतान बना सोनू उर्फ पव्वा पांच सितंबर से पहले जन्माष्टमी आदि धार्मिक कार्यक्रमों में भगवान भोले को किरदार अदा कर तांड़व वाला नृत्य करता था। जिसने कभी मोबाइल नहीं खरीदा था।जो जन्माष्टमी पर भगवान शिव का किरदार निभाकर लोगों के सामने ताड़व वाला नृत्य कर रहा था वह एक असल जिंदगी में ऐसा शैतान निकलेगा कि नृत्य देखने वाले लोग अचंभित रह जाएंगे। मोहल्ले वालों की माने तो सोनू उर्फ पव्वा अपने घर पर कम और सड़कों पर ज्यादा रहता था। जिसको सोनू यादव ने आसरा दे दिया। सोनू ने उसकी आर्थिक मदद की थी। जिसमें वह रोजाना सुबह चार बजे उसको मेरठ गेट चौकी के सामने से उठाकर ले जाता था। बताते हैं कि सोनू नशा करता था। इसके अलावा वह गंदा रहता था जिससे आजकल के युवा अलग थलग रहते थे। लेकिन वह जन्माष्टमी आदि पर भगवान शिव का किरदार अदा करते हुए जमकर तांड़व वाला नृत्य करता था। लेकिन यह शैतानियत के बाद उसके साथ रहने वाले ह व्यक्ति अचंभित हैं। क्योंकि किसी ने सपने में नहीं सोचा था कि यह इतना बुरा कर्म कर देंगे जिसपर मोहल्ला क्या बल्कि पूरा शहर निंदा करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Two Shaitanoki to Janamashatamipar wranglingDaridagimetha Third KalooGames of