DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस बार 300 रुपये प्रति जोड़ी के हिसाब से मिलेगा ड्रेस का बजट

इस बार जनपद के परिषदीय सरकारी स्कूलों में बच्चों के नि:शुल्क ड्रेस वितरण कराने के लिए शासन से 300 रुपये प्रति जोड़ी के हिसाब से बजट मिलेगा। शासन ने ड्रेस की कीमत 200 रुपये से बढ़ाकर 300 रुपये निर्धारित कर दी है। स्कूलों में एक छात्र को दो जोड़ी नि:शुल्क ड्रेस मिलती हैं। पहले एक छात्र के लिए 400 रुपये बजट आता था जो अब बढ़कर 600 रुपये के हिसाब से आयेगा। पूरे जिले में 70 हजार बच्चों को नि:शुल्क ड्रेस बांटी जानी हैं। जिले के परिषदीय सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को नि:शुल्क ड्रेस देने का प्रावधान है। एक छात्र को दो जोड़ी नि:शुल्क ड्रेस दी जाती हैं। अब से पूर्व प्रतिवर्ष 200 रुपये प्रति जोड़ी ड्रेस के हिसाब से बजट आता था। इस बजट में बहुत मुश्किल से ड्रेस बन पाती थी। ऐसे में स्कूलों के शिक्षक बजट को बढ़वाने की मांग लगातार कर रहे थे। शासन से इस मामले को गंभीरता से लेते हुए इस बार ड्रेस के लिए बजट बढ़ा दिया है। इस बार प्रति छात्र 300 रुपये के हिसाब से बजट स्कूलों में भेजा जायेगा। एक छात्र को दो जोड़ी ड्रेस मिलेगी तो प्रति छात्र के लिए 600 रुपये का बजट आयेगा। ड्रेस वितरण कार्य जुलाई माह की शुरुआत में शुरु होगा। शासन ने ड्रेस वितरण का बजट बढ़ाकर बीएसए को निर्देशित किया है। उधर, बेसिक शिक्षा अधिकारी देवेंद्र गुप्ता ने बताया कि ड्रेस वितरण कराने के संबंध में शासन से निर्देश प्राप्त हुए हैं। छात्र संख्या शासन को भेज दी गई है। जिले में करीब 70 हजार बच्चों को नि:शुल्क ड्रेस वितरण की जानी है। इस बार ड्रेस का बजट प्रति जोड़ी 200 से बढ़ाकर 300 रुपये किया गया है। स्कूलों में जुलाई माह की शुरुआत में ड्रेस वितरण का कार्य शुरु होगा। ड्रेस स्कूलों में विद्यालय प्रबंध समिति द्वारा बच्चों को बांटी जायेगी। इस संबंध में स्कूलों के प्रधानाध्यापकों को निर्देशित किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: This time the budget of the dress will be worth 300 rupees per couple