DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  हापुड़  ›  रात को ही कर दी गई थी ओटिल की हत्या
हापुड़

रात को ही कर दी गई थी ओटिल की हत्या

हिन्दुस्तान टीम,हापुड़
Mon, 17 Jul 2017 01:05 AM
रात को ही कर दी गई थी ओटिल की हत्या

कोतवाली के गांव पूठा हुसैनपुर के जंगल में स्थित कुएं में मंगलवार को मिला महिला का शव हत्यारों ने हत्या करके फेंका था। जिसमें पुलिस अभी तक हत्याकांड की गुत्थी नहीं सुलझा पाई है। हालांकि महिला को रविवार की शाम को फोन करके बुलाया गया था और रविवार की रात को ही हत्या कर दी गई थी। मंगलवार को कुएं मिला शव नगर के अतरपुरा में रहने वाली 40 वर्षीय ओटिल पत्नी राजेन्द्र का था। जिसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने के बाद पुलिस मामले को हत्या में तरमीम कर रही है। लेकिन तीन दिन गुजरने के बाद भी पुलिस हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने में सफल नहीं हो पाई है। जबकि पुलिस ने संदेह के दायरे में आए तीन युवकों को हिरासत में ले रखा है। पुलिस का कहना है कि ओटिल नोएडा की एक कंपनी में नौकरी करती थी। रविवार को छुट्टी होने के बाद वह घर पर थी। बताया गया है कि शाम के समय वह परिवार के लिए खाने की तैयारी कर रही थी कि आटा गुथते समय उसके मोबाइल पर एक कॉल आई। जिसके बाद वह खाना छोड़कर घर से बाहर चली गई। पुलिस का कहना है कि घर से जाने के बाद वह वापस नहीं लौटी। जिसका शव मंगलवार को कुएं में पड़ा मिला। जिसके सिर में चोट के निशान थे। पुलिस ने मृतका के मोबाइल पर आई अंतिम कॉल के आधार पर हत्याकांड की गुत्थी सुलझानी शुरू कर दी है। जिसके चलते मोबाइल करने वाले युवक समेत तीन युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।मोबाइल पर आई कॉल से खुलेगा राज--पुलिस ने ओटिल के मोबाइल पर आई कॉल के आधार पर हत्याकांड का खुलासा करने का प्लान तैयार किया है। जिसके चलते अभी पुलिस जहां अंतिम कॉल को लेकर संदेह कर रही है वहीं उससे पहले आई कॉल पर भी जांच की जा रही है।गायब होने के बाद रात को ही कर दी हत्या---मंगलवार को मिले शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला है कि तीन दिन पहले मौत हो चुकी थी। जिसके चलते पुलिस का कहना है कि रविवार को घर से निकलने के बाद रात को ही ओटिल की हत्या कर दी गई थी। क्योंकि रविवार की शाम को वह घर से निकली और मंगलवार की सुबह कुएं में लाश मिली थी। कुएं तक ले जाने वाले की तलाश पुलिस हत्याकांड में सबसे अहम जहां मोबाइल पर आ रही कॉल को मान रही है वही जंगल में स्थित कुएं की जानकारी वाले व्यक्ति की भी तलाश कर रही है। क्योंकि ओटिल की हत्या के बाद जंगल में ले जाकर कुएं में लाश को डालना साबित कर रहा है कि हत्या में वह व्यक्ति शामिल है जिसको पता था कि कुआं वहां पर है। कोतवाली निरीक्षक समरजीत सिंह का कहना है कि जल्द ही हत्याकांड का खुलासा कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि वह नोएडा नौकरी करने जाती थी जो वापसी में किसी के साथ भी आ जाती थी।

संबंधित खबरें