DA Image
27 सितम्बर, 2020|2:42|IST

अगली स्टोरी

पूर्व राष्ट्रपति के निधन के बाद एनएच-335 का उद्घाटन टला

पूर्व राष्ट्रपति के निधन के बाद एनएच-335 का उद्घाटन टला

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी आज मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मेरठ बुलंदशहर हाईवे का ऑनलाइन उद्घाटन करते लेकिन सोमवार की शाम को पूर्व राष्ट्रपति के निधन की सूचना केबाद उदघाटन कार्यक्रम को हटा दिया गया है। मेरठ बुलंदशहर हाईवे-335 को फोर लेन करने के लिए करीब 800 करोड़ की लागत से केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शिलान्यास किया था। जिसे 2019 के अंत तक पूरा किया जाना था। लेकिन हाईवे पर कभी भूमि अधिग्रहण, उतार चढ़ाव के लिए कट की मांग को लेकर ग्रामीणों का प्रदर्शन, हाईवे पर स्थित हाईटेंशन लाइन को हटाने के लिए बजट का देरी से आवंटित होना व लॉक डाउन आदि के चलते निर्माण कार्य में देरी होती चली गई। जिस कारण हाईवे करीब चार साल में बनकर तैयार हुआ है। मेरठ से बुलंदशहर तक 62 किलोमीटर लंबे हाईवे को एनएचएआई की स्थानीय शाखा ने 16 दिसबंर को अनौपचारिक रूप से खोल दिया था। लेकिन हाईवे का औपचारिक रूप से केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी मंगलवार को उद्घाटन करते। जिसके बाद इसे लोगों को सुपुर्द कर दिया जाता।लेकिन सोमवार की शाम को पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के निधन की सूचना के बाद कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया है। एनएचएआई के पीडी ने बताया कि फिलाहल उदघाटन कार्यक्रम टाल दिया गया है।

45 मिनट में पूरी होगी 62 किलोमीटर की दूरी----मेरठ से बुलंदशहर तक 62 किलोमीटर की दूरी तय करने में लोगों को पहले 1.15 से 1.30 घंटा तक लग जाता था। लेकिन अब मेरठ से बुलंदशहर तक हाईवे फोर लेन होने के बाद लोगों को 62 किलोमीटर की दूरी तय करने में केवल 45 मिनट लगेगी। जिससे लोगों के समय के साथ साथ ईंधन की भी बचत होगी। वहीं, लोगों को कुराना टोल प्लाजा पर सुहाने सफर के साथ टोल पर टैक्स देकर अपनी जेब भी ढीली करनी होगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Inauguration of NH-335 postponed after the death of former President