DA Image
26 फरवरी, 2020|12:12|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आयुष्मान भारत योजना से जिले में 1 करोड़ 12 लाख रुपये का हुआ मुफ्त इलाज

आयुष्मान भारत योजना के तहत पांच लाख रुपये तक मुफ्त इलाज कराने की सुविधा गरीबों के लिए वरदान साबित हो रही है। योजना के शुभारंभ से अब तक जनपद में आयुष्मान कार्डधारकों को 1 करोड़ 12 लाख रुपये का निजी और सरकारी अस्पतालों में मुफ्त उपचार मिल चुका है। इसकी आधी धनराशि 56 लाख शासन से स्वीकृत होने के बाद निजी अस्पतालों के खातों में पहुंच चुकी है। जबकि शेष बजट के स्वीकृत होने का अस्पतालों को इंतजार है। इस योजना के तहत अब तक जिले में 962 मरीजों ने मुफ्त इलाज का लाभ लिया है। जनपद में 23 सितंबर 2018 को आयुष्मान भारत योजना का शुभारंभ हुआ था। यहां जिले में करीब 50 हजार लोगों के आयुष्मान भारत के कार्ड बनाये गए थे। सर्वप्रथम उपचार के लिए जनपद में सरस्वती मेडिकल कॉलेज पिलखुवा, जीएस मेडिकल कॉलेज पिलखुवा, रामा मेडिकल कॉलेज पिलखुवा का चयन किया गया। जबकि सरकारी अस्पतालों में जनपद की हापुड़, गढ़मुक्तेश्वर, सिंभावली, सपनावत की सीएचसी को शामिल किया गया था। बाद में देव नंदिनी अस्पातल और मधु नर्सिंग होम हापुड़ को आयुष्मान भारत के पैनल में शामिल किया गया। वर्तमान में जिले के चार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और पांच निजी नर्सिंग होम में आयुष्मान भारत के कार्ड से उपचार मिल रहा है। योजना भी गरीबों के लिए वरदान साबित हो रही है। योजना के शुभारंभ 23 सितंबर से लेकर अब तक जनपद के आयुष्मान भारत के कार्डधारकों को एक करोड़ 12 लाख रुपये का मुफ्त उपचार मिल चुका है। 1 करोड़ 12 लाख रुपये में जनपद के 962 मरीजों का मुफ्त इलाज हुआ है। मुफ्त इलाज की आधी धनराशि 56 लाख रुपये सरकार द्वारा निजी अस्पतालों के खातों में भेजी जा चुकी है। जबकि शेष 56 लाख रुपये की धनराशि के स्वीकृत होने का निजी अस्पताल इंतजार करने में लगे हुए हैं। पैनल में शामिल अस्पतालों में आयुष्मान भारत के कार्ड से मरीजों का उपचार जारी है। -सबसे ज्यादा मरीजों का रामा मेडिकल कॉलेज पिलखुवा में हुआ मुफ्त उपचारआयुष्मान भारत योजना के तहत योजना के शुभारंभ से लेकर अब तक सबसे ज्यादा पिलखुवा के रामा मेडिकल कॉलेज में मरीजों का उपचार हुआ है। 962 मरीजों में रामा मेडिकल कॉलेज में ही 388 मरीजों का उपचार हुआ है। जबकि जीएस मेडिकल कॉलेज पिलखुवा में 261, सरस्वती मेडिकल कॉलेज पिलखुवा में 161, मधु नर्सिंग होम हापुड़ में 83 और देव नंदिनी अस्पताल हापुड़ में 54 मरीजों का मुफ्त उपचार हुआ है।-अब भी बन रहे हैं आयुष्मान भारत के कार्ड जिनके नाम 2011 की आर्थिक गणना वाली सूची में शामिल हैं उनके अब भी आयुष्मान भारत के कार्ड बनाये जा रहे हैं। गढ़ रोड स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्ड बनवाने की सुविधा उपलब्ध है। जिले के पांच निजी अस्पतालों और चार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में आयुष्मान भारत के कार्ड से पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज की सुविधा है। -इनकी सुनिए आयुष्मान भारत योजना के तहत जनपद में चार सरकारी और पांच निजी अस्पतालों में कार्डधारकों का मुफ्त उपचार हो रहा है। योजना से गरीबों को फायदा हो रहा है। अब तक जिले में 962 मरीजों का मुफ्त इलाज हो चुका है। करीब 1 करोड़ 12 लाख रुपये का अस्पतालों में इलाज हुआ है। 56 लाख रुपये का बजट शासन से स्वीकृत होने के बाद निजी अस्पतालों के खातों में पहुंच गया है।-डॉ.प्रवीन शर्मा-डिप्टी सीएमओ, जिला नोडल अधिकारी आयुष्मान भारत

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: Free treatment of Rs 1 15 crore in district from Ayushman Bharat Scheme