Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश हापुड़प्रेम प्रसंग के चलते हुई थी इलैक्ट्रीशियन की हत्या

प्रेम प्रसंग के चलते हुई थी इलैक्ट्रीशियन की हत्या

हिन्दुस्तान टीम,हापुड़Newswrap
Mon, 29 Nov 2021 06:20 PM
प्रेम प्रसंग के चलते हुई थी इलैक्ट्रीशियन की हत्या

बाबूगढ़ थाना क्षेत्र के बछलौता बाइपास के 26 नवंबर को इलैक्ट्रीशियन गांव सिमरौली निवासी आकाश की गोली मारकर हत्या करने वाले दो आरोपियों को पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीमों ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। दोनों ने पूछताछ में बताया कि मृतक आकाश से जिस युवती की शादी तय हुई थी, उससे हत्या का मुख्य आरोपी प्रेम करता था। हत्या की वजह प्रेम प्रसंग बनी। पुलिस ने आरोपियों के पास से मृतक का मोबाइल फोन, घटना में प्रयुक्त बाइक, खोखा और काले रंग का बैग बरामद किया गया है। गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपी छात्र हैं।

सदर कोतवाली में आयोजित प्रेस वार्ता में अपर पुलिस अधीक्षक सर्वेश कुमार मिश्रा ने बताया कि गांव सिमरौली का रहने वाला आकाश बाबूगढ़ छावनी में इलैक्ट्रिक की दुकान करता था। 26 नवंबर को आकाश का गोली लगा शव बछलौता बाइपास के पास से बरामद किया गया था। परिजनों ने इस घटना का मुकदमा भी दर्ज कराया था। पुलिस ने आसपास में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली तो सामने आया कि दो युवक आकाश को बाइक पर बैठाकर ले जा रहे हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए बाबूगढ़ पुलिस के साथ साथ एसओजी की संयुक्त टीमों को लगाया गया था।

उन्होंने बताया कि सोमवार को संयुक्त टीमों को सूचना मिली थी कि कुचेसर रोड चौपला के पास आकाश के हत्यारे आ रहे हैं। इस सूचना पर पुलिस टीम अलर्ट हो गई। घेराबंदी करते हुए पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए आरोपी जनपद बुलंदशहर के थाना बीबीनगर के गांव वेनीपुर निवासी मनीष उर्फ मिंटू और रोबिन हैं। रोबिन आईआईटी का छात्र हैं। जबकि मनीष उर्फ मिंटू बीए फाइनल ईयर का छात्र हैं। मनीष उर्फ मिंटू ही इस हत्या का मुख्य आरोपी है।

ऐसे खुला मामला

अपर पुलिस अधीक्षक सर्वेश कुमार मिश्रा ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद जब टीमों ने पूछताछ की तो मनीष उर्फ मिंटू ने बताया कि उसके गांव की ही एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। कुछ समय पहले ही उसकी शादी आकाश से तय हो गई थी। जिस वजह से उसकी प्रेमिका ने उससे बात करना बंद कर दिया था। प्रेमिका को पाने की चाहत में मनीष उर्फ मिंटू ने अपने दोस्त रोबिन के साथ मिलकर इस सनसनीखेज वारदात को अंजाम दिया।

हत्या वाले दिन ही शादी की तिथि होनी थी पक्की

अपर पुलिस अधीक्षक सर्वेश कुमार मिश्रा ने बताया कि पूछताछ के दौरान पता लगा है मृतक आकाश की जिस दिन हत्या की गई, उसी दिन उसकी शादी की तिथि पक्की होनी थी। आरोपी मनीष उर्फ मिंटू और रोबिन आकाश की दुकान पर पहुंचे और गांव बछलौता में बिजली फीटिंग का काम कराने की बात कहकर उसे अपने साथ ले गए। इसके बाद बाइपास के पास खेतों में काम कर रही महिलाओं को देखकर आरोपियों ने मृतक को बातों में लगा लिया। जब खेत से महिलाएं गईं तो मनीष उर्फ मिंटू ने तमंचे को कमर पर सटाकर गोली चला दी।

epaper

संबंधित खबरें