DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › हापुड़ › कोरोना का खौफ:रिजल्ट घोषित होने के बाद मॉस्क पहनकर स्कूल पहुंचे स्टूडेंट्स
हापुड़

कोरोना का खौफ:रिजल्ट घोषित होने के बाद मॉस्क पहनकर स्कूल पहुंचे स्टूडेंट्स

हिन्दुस्तान टीम,हापुड़Published By: Newswrap
Sat, 31 Jul 2021 04:10 AM
कोरोना का खौफ:रिजल्ट घोषित होने के बाद मॉस्क पहनकर स्कूल पहुंचे स्टूडेंट्स

सीबीएसई बोर्ड इंटरमीडिएट का रिजल्ट घोषित होने के बाद कोरोना का खौफ जनपद के स्कूलों में भी दिखाई दिया। स्कूलों में पहुंचे स्टूडेंट्स मॉस्क लगाकर आए थे। जिन्होंने मॉस्क में ही खुशी मनाई। कई अभिभावकों के पिता भी मॉस्क लगाकर अपने लाड़ले के साथ स्कूल पहुंचे थे।

सीबीएसई बोर्ड इंटरमीडिएट का रिजल्ट शुक्रवार दोपहर घोषित हुआ था। अभी कोरोना के कारण स्कूल बंद चल रहे हैं, लेकिन रिजल्ट वाले दिन अधिकांश स्कूलों द्वारा स्टूडेंट्स के रिजल्ट दिखाने की व्यवस्था की हुई थी। इसलिए स्कूलों के आसपास की कॉलोनियों के स्टूडेंट्स रिजल्ट देखने के लिए स्कूलों में पहुंच गए थे। रिजल्ट घोषित होने के बाद बहुत से स्टूडेंट्स मॉस्क लगाकर विद्यालय पहुंचे थे। दो पहिया वाहनों से कई स्टूडेंट्स को लेकर उनके पिता आए थे। जिन्होंने स्कूलों के कम्प्यूटर रूम में रिजल्ट देखा और कोरोना से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए खुशी मनाई। स्कूल आने वाले सभी स्टूडेंट्स मॉस्क में दिखाई दिए। जिनमें कोरोना का खौफ साफ दिखाई दे रहा था। एसबीएम हापुड़ में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्र वैभव वर्धन त्यागी ने बताया कि अभी कोरोना खत्म नहीं हुआ है। इसलिए बचाव जरूरी है। वह मॉस्क लगाकर विद्यालय आए हैं। सभी को बचाव करना चाहिए। वहीं श्रीमती ब्रह्मादेवी सरस्वती बालिका विद्या मंदिर में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाली छात्रा ईिशका जिंदल ने बताया कि वह जब भी घर से बाहर निकलती हैं। मॉस्क पहनकर ही जाती हैं। कोरोना से बचाव अति आवश्यक है।

-स्कूलों के प्रधानाचार्य, शिक्षक भी मॉस्क में दिखे

हापुड़। रिजल्ट के बाद सभी स्कूलों के प्रधानाचार्य एवं शिक्षक भी स्कूलों में मॉस्क पहने हुए दिखाई दिए। स्कूलों के गेट पर हाथों को सैनिटाइज करने एवं फीवर तापमान की जांच की व्यवस्था भी दिखाई दी। एलएन पब्लिक स्कूल के डायरेक्टर पंकज अग्रवाल ने बताया कि कोरोना चल रहा है। इसलिए मॉस्क, सैनिटाइजर जरूरी है। वह दिन में दो बार पूरे ऑफिस को सैनिटाइज कराते हैं। सभी स्टॉफ के फीवर तापमान की जांच के बाद एंट्री की जाती है।

-टॉपर्स ने मनाया जश्न, खूब खाई मिठाई

हापुड़। रिजल्ट घोषित होने के बाद अनेक स्टूडेंट्स विद्यालय पहुंचे। उन्होंने स्कूलों के शिक्षकों से आर्शीवार्द लिया। साथी स्टूडेंट्स के साथ जमकर मिठाई खाई और जश्न मनाया। माता पिता ने भी अपने लाड़लों के साथ खूब जश्न मनाया।

संबंधित खबरें