DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बच्ची की दरिंदगी के बाद हत्या करने वाला दूसरा आरोपी शैतान पकड़ा गया

बच्ची की दरिंदगी के बाद हत्या करने वाला दूसरा आरोपी शैतान पकड़ा गया

पांच सितंबर को दिन दहाड़े थाना हापुड़ देहात इलाके के मोहल्ला फूलगढ़ी में एक मासूम बच्ची की बलात्कार के बाद गला घोंटकर हत्या करने तथा छोटे भाई की हत्या के इरादे से चाकू द्वारा गर्दन काटने वाले दूसरे शैतान तो पुलिस ने गाजियाबाद से गिरफ्तार कर लिया है। जबकि हत्याकांड में षड्यंत्र रचने वाले कलुवा को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने घटना में लूटा गया जेवरात बरामद करते हुए दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया गया है।एएसपी राम मोहन सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि एसपी संकल्प शर्मा के दिशा निर्देश पर पांच सितंबर को फूलगढ़ी में एक मासूम बच्ची की हत्या करने तथा एक बच्चे के हत्या के प्रयास में एक आरोपी अंकुर उर्फ तेली को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। जबकि दूसरा आरोपी सोनू उर्फ पव्वा उर्फ बीडी फरार चल रहा था। जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की एसओजी समेत तीन टीम लगी हुई थीं। बताया कि सोमवार की रात को मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपी सोनू गाजियाबाद में है जिसके चलते थाना प्रभारी दीक्षित त्यागी मय टीम के गाजियाबाद के लिए रवाना हो गए। सोनू को रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके कब्जे से घटना के बाद लूटे गए जेवरात और 310 रुपये की नगदी बरामद कर ली गई है। उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपी ने घटना को कबूल करते हुए बताया कि पड़ोस में रहने वाला कालू उनसे सोनू की हत्या के लिए कई दिनों से कह रहा था। जिसके चलते हम दोनों ने दीमाग में यह प्लान तैयार कर लिया था कि सोनू की हत्या करनी है। पांच सितंबर को सोनू की हत्या के लिए घर में गए थे। जहां पर सोनू नहीं मिला लेकिन उसकी बेटी तथा छोटा बेटा वहां पर थे। घर में रखा माल देखकर सोच बदल गई तथा जेवरात तथा नगदी लूट ली। जिसमें बच्ची के साथ बलात्कार के बाद हत्या कर दी गई जबकि उसके बेटे की चाकू से गर्दन काट दी गई। एएसपी राम मोहन सिंह ने बताया कि हत्या में प्रयुक्त दुपट्टे, तथा हत्या के प्रयास में प्रयुक्त चाकू समेत लूटी गई रकम तथा जेवरात बरामद कर लिए गए हैं। जबकि तीसरे आरोपी को धारा 120 के अन्तर्गत गिरफ्तार कर लिया गया है। जिनको न्यायालय में पेश करके जेल भेजा जा रहा है।गिरफ्तार करने वाली टीम---थाना प्रभारी दीक्षित त्यागी, एसएसआई सुरेन्द्र सिंह, सिपाही विनित, नितिन, महिला कास्टेबल जूही, एसओजी रवि रत्न, अनुज कुमार, राजीव, कुलदीप, रामनिवास, अंकुर धामा शामिल थे।बरामद जेवरात---एक सोने की चैन, पांच अंगूठी, दो मांग की टीके, कानो के कुंडल, झुमकी, तीन नाक की लौंग, 6 जोड़ी पाजेब, 7 जोड़ी पाजेब इस्तमाली, एक साड़ी का पैके्ट, 2 बच्चों के कंगन, 7 जोड़ी पैरों की चुटकी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:BachachikidaridagiMurderer after second Aropigiraphatar